न ढूंढ मेरा किरदार दुनिया की भीड़ में, वफादार तो हमेशा तन्हा ही मिला करते हैं। हालांकि कांग्रेस के एनपी प्रजापति स्पीकर बन गए। दिग्विजय सिंह का इल्जाम है कि नरोत्तम मिश्रा और विश्वास सारंग ने कांग्रेस के विधायक बैजनाथ कुशवाह को 100 करोड़ का आॅफर दिया था। तीन अन्य कांग्रेस विधायकों ने भी कहा कि उन्हें खरीदने की कोशिशें हुर्इं। उधर सीबीआई प्रमुख आलोक वर्मा के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सरकार के फैसले को गलत बताते हुए उन्हें बहाल कर दिया। स्मार्ट सिटी मामले में महापौर ने अपने ही दल की पूर्व सरकार को कटघरे में खड़ा कर कांग्रेस से सहयोग की पेशकश कर दी। बीएमसी परिषद की बैठक की भेतरीन खबर। ट्रेन पकड़ने के पहले स्टेशन पहुंचने वाली खबर शिवनारायण साहू ने ठीक निकाली। जहर से मौत की जांच हमीदिया में बंद पड़ी है। प्रवीण श्रीवास्वत की जानदार खबर।