नई दिल्ली: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार को भारतीय मूल के पुलिसकर्मी रोनिल 'रॉन' सिंह को 'राष्ट्रीय हीरो' बताया है. इनकी हाल ही में कैलिफोर्निया में हत्या कर दी गई थी. ट्रंप ने कहा कि अमेरिका का दिल उस दिन टूट गया था जब 'अवैध विदेशी' ने उस युवा अधिकारी की 'नृशंस हत्या' की थी.

26 दिसंबर को एक ट्रैफिक स्टॉप के दौरान न्यूमैन पुलिस विभाग के 33 वर्षीय कॉर्पोरल सिंह की एक अवैध शरणारर्थी ने कथित तौर पर गोली मारकर हत्या कर दी थी. ट्रंप ने पिछले गुरुवार को सिंह के परिवार के सदस्यों और सहकर्मियों के साथ बात की थी. सिहं जुलाई 2011 में पुलिस बल में शामिल हुए थे.

ट्रंप ने कहा, ‘क्रिसमस के एक दिन बाद अमेरिका का दिल उस वक्त टूट गया, जब कैलिफोर्निया में एक युवा पुलिस अधिकारी की एक अवैध विदेशी ने बर्बरता से हत्या कर दी थी. वो विदेशी सीमा पार कर यहां आया था. एक अमेरिकी हीरो की जान एक ऐसे व्यक्ति ने ले ली जिसे हमारे देश में होने का कोई अधिकार ही नहीं था.’

33 साल के आरोपी का नाम गुस्तावो पेरेज अरियागा है. वो मेक्सिको का रहने वाला है. कैलिफोर्निया की पुलिस ने अवैध शरणार्थी को सिंह की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है. ओवल कार्यालय से राष्ट्र को किए अपने पहले संबोधन में, ट्रंप ने मेक्सिको सीमा के साथ दीवार बनाने का मुद्दा उठाया.