नई दिल्ली: केंद्रीय कैबिनेट ने एम्स(अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान) को लेकर एक बड़ा फैसला किया है. इस फैसले के मुताबिक कैबिनेट ने जम्मू के सांबा (विजयनगर), कश्मीर के पुलवामा (अवंतीपुर) और गुजरात के राजकोट में तीन नए एम्स को बनाने की मंजूरी दी है.

Union Cabinet approves setting up of 3 new AIIMS at Vijaynagar in Samba in Jammu, Awantipur in Pulwama in #Kashmir and Rajkot in Gujarat.

— ANI (@ANI) January 10, 2019

एक निजी चैनल के मुताबिक इन एम्स का सेटअप प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत किया जा रहा है. केंद्र सरकार ने कहा कि एम्स को बनाने का मकसद पूरे देश में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करना, मेडिकल शिक्षा और रिसर्च को बढ़ावा देना है.

केंद्र सरकार ने यह भी कहा कि नए एम्स की स्थापना में हॉस्पिटल का निर्माण, मेडिकल की पढ़ाई, नर्सिंग कोर्स, रेसीडेंशियल कॉम्पलेक्स शामिल है.

मिली जानकारी के मुताबिक यह संभावना जताई जा रही है कि जम्मू के सांबा में 48 महीनों में एम्स बनकर तैयार हो जाएगा. वहीं कश्मीर में एम्स के निर्माण में 72 महीनों का समय लगेगा.

नए एम्स में 100 एमबीबीएस सीट और 60 बीएससी सीट होंगी. इसमें 15-20 सुपर स्पेशिएलिटी डिपार्टमेंट होंगे. इसके अलावा नए एम्स में 750 हॉस्पिटल बेड होंगे.