जालन्धर : ऑस्ट्रेलिया टीम जब जब सिडनी के मैदान पर भारत के खिलाफ पहला वनडे मैच खेलने उतरी तो चारों ओर चर्चा ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज पीटर सिडल की रही। दरअसल सिडल 8 साल बाद ऑस्टे्रलिया टीम में लौटे हैं। यह किसी भी क्रिकेटर के लिए आधे से ज्यादा बनवास काटने जैसा ही है। इससे पहले 2010 में उन्होंने भारत के खिलाफ ही आखिरी वनडे मैच खेला था। सिडनी वनडे तक ऑस्ट्रेलिया ने इस दौरान 169 वनडे खेले।

सिडल ने ऐसा कर अपने ही देश के बै्रड हॉज का रिकॉर्ड तोड़ा जिन्हें 1996 में डैब्यू के ठीक 6 साल बाद दोबारा टीम में चुना गया। इस दौरान ऑस्ट्रेलिया 156 मैच खेल चुका था। इसी लिस्ट में तीसरा नाम नाथन हार्टिज का है। जिन्होंने 2003 से लेकर 2009 में 149 वनडे मिस किए। फिर मैथ्यू हेडन 142 वनडे 1994 से लेकर 2000 तक। और अंत में टिम पेन। पेन ने अपना पहला मैच 2011 में खेला था। अब सात बाद वह फिर से ऑस्ट्रेलियाई टीम में आए हैं। इस दौरान ऑस्ट्रेलिया ने 138 मैच खेले।

सिडल ने भारत के खिलाफ ही 2008 में मोहाली टेस्ट से डेब्यू किया था। वे 64 टेस्ट में 214 विकेट झटक चुके हैं। जबकि उनका डेब्यू वनडे फरवरी 2009 में ब्रिस्बेन में न्यूजीलैंड के खिलाफ था। वे तब से सिर्फ 17 वनडे ही खेल पाए हैं। इसमें उनके नाम 15 विकेट दर्ज हैं।