नई दिल्ली: रिपब्लिकन पार्टी आॅफ इंडिया (ए) के अध्यक्ष एवं केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने शनिवार को कहा कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी का गठबंधन बेमेल है जो 2019 के लोकसभा चुनाव में सफल नहीं होगा। सपा और बसपा के बीच गठबंधन की घोषणा के बाद अठावले ने एक बयान में कहा,‘यह गठबंधन बेमेल है। यह केवल सत्ता पाने के लिए किया गया है जो 2019 के लोकसभा चुनाव में सफल नहीं हो पाएगा।’

उन्होंने दावा किया उत्तर प्रदेश में दलित समाज राजग गठबंधन के साथ रहेगा और 2014 की तरह 2019 में भी राजग को भारी सफलता मिलेगी। अठावले ने यह भी कहा कि बसपा मुखिया सुश्री मायावती जी भाजपा को सांप्रदायिक पार्टी बता रही हैं जबकि पूर्व में कई बार वह भाजपा के सहयोग से उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री भी बन चुकी हैं। दरअसल, सपा और बसपा आगामी लोकसभा चुनाव में गठबंधन के तहत उत्तर प्रदेश की 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। दो सीटें छोटी पार्टियों के लिए छोड़ी गई हैं जबकि अमेठी और रायबरेली की दो सीटें कांग्रेस पार्टी के लिए छोडऩा तय किया गया है।