नई दिल्ली: आप ने देशव्यापी स्तर पर जनता में मोदी सरकार के प्रति घोर निराशा और गुस्से को देखते हुये इस सरकार को सत्ता में फिर से आने से रोकने के लिए एसपी-बीएसपी गठबंधन को सकारात्मक पहल बताया है.

आप के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने शनिवार को कहा कि मोदी सरकार को देश की सत्ता से दूर करने के लिए विपक्षी दलों की एकजुटता जरूरी है और इस लिहाज से एसपी-बीएसपी  गठबंधन सकारात्मक पहल है.

उन्होंने कहा ‘बीजेपी को रोकने के लिए राज्यों की स्थानीय राजनीतिक परिस्थितियों पर आधारित इस तरह के गठबंधन समय की मांग हैं और इसके अनुरूप विभिन्न राज्यों में इसकी पहल की जा रही है.’

सिंह ने कहा कि अब आने वाले दो तीन महीनों में इस पहल के प्रभाव को देखकर ही इनकी सार्थकता का सही आकलन किया जा सकेगा.

बता दें बीएसपी और एसपी आगामी लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की कुल 80 लोकसभा सीटों में से 38-38 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेंगी. इन दोनों पार्टियों ने राज्य की दो सीटें छोटी पार्टियों के लिए छोडी हैं जबकि अमेठी और रायबरेली की दो सीटें कांग्रेस पार्टी के लिए छोड़ने का फैसला किया है. बीएसपी सुप्रीमो मायावती और एसपी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को एक आयोजित संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में यह घोषणा की.