पालघर: प्रशासन ने महाराष्ट्र में पालघर जिले के कई गांवों में हाल में आये भूकंप के कारण बढ़ते डर की भावना के बीच दो तालुक को हाई अलर्ट किया है और राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) को राहत कार्य में शामिल किया है. अधिकारियों के मुताबिक, प्रशासन दहानु और तलसारी तालुक के निवासियों का डर खत्म करने के लिए उन तक पहुंच रहा है और उनके लिए अस्थायी शिविरों का निर्माण कर रहा है. बता दें कि क्षेत्र में नवंबर से कम तीव्रता के भूकंप के झटके आ रहे हैं. सिर्फ शुक्रवार को ही रिक्टर पैमाने पर तीन और 4.1 की तीव्रता के बीच के कम से कम छह भूकंप के झटके आए. इसके कारण निवासियों में घबराहट का माहौल है.

पालघर जिला कलेक्टर प्रशांत नरनावरे ने शनिवार को बताया, ''प्रशासन ने दहानु और तलसारी तालुकों को हाई अलर्ट पर रखा है. ग्रामीणों को इसके बारे में जानकारी देने के लिए एनडीआरएफ की एक टीम पहुंच गई है.'' उन्होंने बताया कि उप संभागीय अधिकारी ग्राम सेवकों और गांव के सरपंचों के साथ भूकंप आने के दौरान ग्रामीणों को क्या करने और क्या नहीं करने के बारे में बताने के लिए बैठकों का आयोजन कर रहे हैं. नरनावरे के मुताबिक, दोनों तालुकों में 42 स्थानों की पहचान की गई है जहां टेंट लगाए जाएंगे.