काराकास: बेतहाशा महंगाई का सामना कर रहे वेनेजुएला में सेना ने बगावत कर दिया है. वेनेजुएला की सेना में डॉक्टर कर्नल रुबेन पाज जिमेनेज ने राष्ट्रपति निकोलस मादुरो से अपनी वफादारी खत्म करने की घोषणा की. उन्होंने विपक्ष के नेता जुआन गुएडो का समर्थन किया है. कर्नल ने शनिवार को जारी एक वीडियो में कहा, ‘सशस्त्र बलों में हमारे में से 90 फीसदी लोग वास्तव में नाखुश हैं. हमें उन्हें सत्ता में बनाए रखने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है.’

उन्होंने अपने साथी सैनिकों से वेनेजुएला को मानवीय सहायता देने में मदद करने का अनुरोध किया. अमेरिका से सहायता सामग्री लेकर आ रहा जहाज अभी सीमा पर कोलंबिया के कुकुटा में है. मादुरो ने जहाज को प्रवेश से रोकने का संकल्प जताया है. उन्होंने इसे अमेरिकी आक्रमण का अग्रदूत बताया. एक सप्ताह पहले ही वायु सेना जनरल फ्रांसिस्को यानेज ने भी मादुरो से अपनी वफादारी खत्म कर दी थी. वेनेजुएला में सत्ता में रहने के लिए सेना का समर्थन महत्वपूर्ण होता है.

वेनेजुएला के आर्थिक हालात बेहद खराब हो गए हैं. यहां महंगाई आसमान छू रही है. यहां आलम यह है कि यहां एक ब्रेड की कीमत हजारों रुपए हो गए हैं. एक किलो मीट के लिए 3 लाख रुपए और एक लीटर दूध के लिए 80 हजार रुपए तक खर्च करने पड़ रहे हैं. यहां की सरकार ने दुनिया भर के देशों से गुहार लगाई है कि वे यहां के हालात सुधारने में उनकी मदद करें. वहीं कोलंबिया का कहना है कि चंद दिनों में वेनेजुएला के करीब 10 लाख लोग उसके यहां आकर शरण ले चुके हैं, जिसके चलते उनपर दबाव बन रहा है. यहां महंगाई दर 10 लाख प्रतिशत तक पहुंच चुका है. वेनेजुएला में एक कप कॉफी की कीमत 2000 बोलिवर है.

वेनेजुएला सरकार दिन रात नोट छाप रही है ताकि बजट पूरा किया हो सके. लेकिन इन सबके कारण हालात बिगड़ गए हैं. वेनेजुएला की राजधानी काराकास में एक नर्स मेगुआलिदा ओरोनोज का कहना है कि हम सब यहां अरबपति हैं. लेकिन फिर भी हम गरीब हैं. मेरा वेतन 50 लाख महीना है, लेकिन मैं अपने बच्चे के लिए ढंग का एक वक्त का खाना नहीं खरीद सकती.

दक्षिण वेनेजुएला के सिडाड गुयाना में एक दुकानदार की जुबानी से समझिए कि हालात कितने खराब हैं. उसका कहना है कि वह 500 और 1000 बोलिवर (वेनेजुएला करंसी) लेता ही नहीं है. वह सिर्फ 1 लाख के नोट स्वीकार करता है. वेनेजुएला में एक यूनिवर्सिटी प्रोफेसर को अपना जूता मरम्मत करवाने के लिए चार महीने की सैलरी के बराबर 20 अरब बोलिवर (करीब 4 लाख रुपये) देने पड़े.

वेनेजुएला में एक लीटर पेट्रोल की कीमत केवल 62 पैसे है. अगर, भारत से मुकाबला करें तो यहां एक लीटर पेट्रोल के लिए आपको जितनी कीमत चुकानी पड़ती है, उसमें आप वहां 100 लीटर से भी ज्यादा पेट्रोल खरीद सकते हैं.