नई दिल्‍ली : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज (11 फरवरी) यूपी के दौरे पर हैं. सोमवार सुबह पीएम मोदी ने ग्रेटर नोएडा में आयोजित एक्सपो मार्ट में 13वें अंतरराष्ट्रीय तेल-गैस सम्मेलन और पेट्रोटेक-2019 प्रदर्शनी का उद्घाटन किया. कार्यक्रम में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ और राज्‍यपाल रामनाईक भी मौजूद रहे. यहां पीएम मोदी ने कहा कि इस साल देश में 100 फीसदी विद्युतीकरण का हमारा लक्ष्‍य है. उन्‍होंने कहा कि भारत दुनिया की तेजी से उभरती सबसे बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था है. इस क्षेत्र की प्रमुख एजेंसियां जैसे आईएमए और विश्‍व बैंक ने भी भविष्‍य में ऐसी ही संभावना जताई है.

उन्‍होंने कहा कि भारत हाल ही में दुनिया की छठी बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था के रूप में उभरा है. हाल ही में जारी हुई एक रिपोर्ट के मुताबिक 2030 तक भारत दुनिया की दूसरी बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था बनेगा. हम दुनिया में ऊर्जा खपत के मामले में मौजूदा समय तीसरे स्‍थान पर हैं. ऊर्जा की मांग सालाना 5 फीसदी की दर से बढ़ रही है.

PM at Petrotech 2019: India recently became the 6th largest economy in the world. According to a recent report, by 2030 India would be the 2nd largest world economy. We are also the 3rd largest energy consumer in the world with the demand growing at more than 5% annually. pic.twitter.com/GZo75xoshc

— ANI (@ANI) February 11, 2019

PM Narendra Modi at Petrotech 2019: India remains an attractive market for energy companies with energy demand expected to be more than double by 2040. https://t.co/s9sgjOQdYx

— ANI (@ANI) February 11, 2019

कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा कि हम देश की जनता को स्‍वच्‍छ ऊर्जा उपलब्‍ध कराना चाहते हैं. सभी को उपलब्‍ध होने वाली ऊर्जा ही देश के विकास का प्रमुख कारण है. दुनिया भर के देश जलवायु परिवर्तन से लड़ने के लिए एकजुट हो रहे हैं. हम उस दौर में प्रवेश कर रहे हैं, जहां बड़ी मात्रा में ऊर्जा उपलब्‍ध है. उन्‍होंने कहा कि लोगों को स्‍वच्‍छ और सतत ऊर्जा को अपनाना चाहिए.

PM at Petrotech 2019: India is the fastest growing large economy in the world. Leading agencies such as IMA & World Bank project the same trend to continue in coming yrs. In an uncertain global economic environment, India has shown tremendous reasons as an anchor of world economy pic.twitter.com/vOcMC0irOx

— ANI (@ANI) February 11, 2019

ग्रेटर नोएडा के बाद पीएम मोदी वृंदावन में अक्षयपात्र के कार्यक्रम में शामिल होंगे. वहां पीएम मोदी अक्षय पात्र फाउंडेशन कार्यक्रम के तहत वंचित वर्ग के बच्चों को 3 अरबवीं थाली परोसेंगे.

वृंदावन में अक्षय पात्र फाउंडेशन का कार्यक्रम देश के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले गरीब परिवारों के बच्चों को मध्याह्न भोजन (मिड-डे-मील) योजना के तहत फाउंडेशन की ओर से चलाए जाने वाले कार्यक्रम का हिस्सा है. अक्षय पात्र फाउंडेशन के निदेशक (मीडिया) भरत दास ने संवाददाताओं को बताया कि प्रधानमंत्री मिड-डे-मील योजना के तहत स्वयंसेवी संस्था(एनजीओ) अक्षय पात्र फाउंडेशन की 3 अरबवीं थाली अपने हाथों से बच्चों को परोसेंगे. इसी के साथ अक्षय पात्र फाउंडेशन मिड-डे-मील योजना के तहत भोजन की 3 अरब थाली परोसने का रिकॉर्ड बना लेगा.

वह वृंदावन के चंद्रोदय मंदिर में आयोजित कार्यक्रम में अक्षय पात्र की तीन अरबवीं भोजन की थाली सेवा को चिह्नित करने के लिए पट्टिका का अनावरण करेंगे और वंचित वर्ग के स्कूली बच्चों को भोजन भी परोसेंगे. पीएम मोदी इस्कॉन के आचार्य श्रील प्रभुपाद के विग्रह में भी पुष्पांजलि अर्पित करेंगे.

इस कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री श्रीकांत शर्मा, मथुरा से सांसद हेमा मालिनी सहित सरकार के कुछ अन्य मंत्री भी मौजूद रहेंगे. अक्षय पात्र के निदेशक ने बताया कि साल 2012 में संस्था ने 1 अरबवीं थाली परोसने का कार्यक्रम आयोजित किया गया था जबकि 2016 में 2 अरबवीं थाली परोसने संबंधी कार्यक्रम का आयोजन किया.