नई दिल्‍ली : जम्‍मू और कश्‍मीर में विधानसभा चुनावों को लेकर बड़ी खबर आ रही है. सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि जम्‍मू और कश्‍मीर में रमजान के बाद और अमरनाथ यात्रा से पहले विधानसभा चुनाव कराए जा सकते हैं. माना जा रहा है कि प्रदेश में विधानसभा चुनाव 4 जून के बाद 5 से 30 जून के बीच कराए जा सकते हैं. सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि जम्‍मू और कश्‍मीर में विधानसभा चुनाव 6 से 8 चरणों में हो सकते हैं.

बता दें कि चुनाव आयोग ने 17वीं लोकसभा का चुनाव देश कराने का कार्यक्रम घोषित कर दिया है. इसके तहत देश में सात चरण में लोकसभा चुनाव होने हैं. लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल से 19 मई के बीच कराए जाएंगे. सात चरण के मतदान के बाद 23 मई को मतगणना की जाएगी. मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने चुनाव कार्यक्रम घोषित करते हुए बताया था कि लोकसभा चुनाव के पहले चरण के लिए 11 अप्रैल को होने वाले मतदान की अधिसूचना को 18 मार्च को जारी किया जाएगा.

पहले चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव कार्यक्रम घोषित करते हुए लोकसभा चुनाव के साथ आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, ओडिशा और सिक्किम में भी विधानसभा चुनाव कराने का फैसला किया था. उस समय कहा गया था कि इस दौरान जम्मू कश्मीर में सुरक्षा कारणों से विधानसभा चुनाव नहीं कराए जाएंगे. मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त सुनील अरोड़ा ने उस दौरान स्पष्ट किया था कि जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव, लोकसभा चुनाव के साथ नहीं कराए जाएंगे. नवंबर 2018 में जम्मू और कश्मीर विधानसभा भंग किए जाने के बाद मई से पहले राज्य में चुनाव कराना जरूरी है.