नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेटर ऑस्ट्रेलिया से वनडे सीरीज खेलने के बाद अब आईपीएल की तैयारी में जुट गए हैं. वे ना सिर्फ प्रैक्टिस कर रहे हैं, बल्कि लीग के अपने रोमांचक अनुभवों को भी शेयर कर रहे हैं. भारतीय कप्तान विराट कोहली, जो अब रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू (आरसीबी) के लिए योजना बना रहे हैं, ने भी एक ऐसा ही अनुभव शेयर किया है. आरसीबी के कप्तान ने बताया कि उन्होंने अपने करिरयर की सबसे अहम पारी 2010 में खेली थी. हालांकि, इस पारी के बावजूद उनकी टीम मैच हार गई थी.

विराट कोहली ने ‘गेम बनाएगा नेम’ के तहत अपना यह अनुभव शेयर किया. उन्होंने बताया , ‘मुझे अब भी याद है कि मैंने 2010 में चैंपियंस लीग टी20 टूर्नामेंट के मुकाबले में मुंबई इंडियंस की ओर से 49 रन बनाए थे. हालांकि, इसके बावजूद हमारी टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू आखिरी गेंद में वह मैच हार गई थी. इसके बावजूद मैं इसे आरसीबी की ओर से खेली गई अपनी सबसे यादगार पारी मानता हूं.’ उन्होंने कहा, ‘जब टीम के हर सदस्य ने लगभग समर्पण कर दिया था, तब मैं लगभग अंत तक खेलता रहा. मैंने अकेले ही यह मैच करीब-करीब जिता ही दिया था. हालांकि, हम हार गए, लेकिन इसने मेरा आत्मविश्वास बढ़ गया.’

विराट कोहली ने कहा, ‘जिसने भी मेरी यह पारी देखी, उसने मुझे शाबाशी दी. यही मेरा ‘गेम बनाएगा नेम’  मोमेंट था. इस पारी ने मुझे अलग पहचान दी. मुंबई इंडियंस की ओर से जहीर खान ने आखिरी ओवर फेंका. सचिन तेंदुलकर और हरभजन सिंह भी इस मैच में थे. इन सबने देखा कि मुझमें मैच जिताने की प्रतिभा है और यह मेरे लिए बतौर क्रिकेटर बड़ा पल था.’

आईपीएल का मौजूदा संस्करण 23 मार्च को शुरू हो रहा है. पहला मैच विराट कोहली की टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू और गत चैंपियन चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच होना है. यह आईपीएल का 12वां संस्करण है. विराट कोहली की टीम आज तक एक भी बार आईपीएल का खिताब नहीं जीत सकी है. वहीं, एमएस धोनी चेन्नई सुपरकिंग्स को तीन बार चैंपियन बना चुके हैं. ऐसे में यह मैच विराट कोहली की टीम के लिए ज्यादा अहम कहा जा सकता है. यह देखना रोचक होगा कि वे लीग में जीत से शुरुआत करते हैं या उन्हें पहले ही मैच में निराश होना पड़ता है.