रायपुरः छत्तीसगढ़ के कोंडागांव में हुए एक भीषण सड़क हादसे में 7 लोगों की मौत हो गई और वहीं कई बुरी तरह से घायल हो गए. प्रत्यक्षदर्शियों से मिली जानकारी के मुताबिक घटना के तुरंत बाद ही बोलेरो में सवार 3 लोगों ने दम तोड़ दिया और वहीं 4 अन्य की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई. यह हादसा इतना भयानक था कि बोलेरो के पूरी तरह से परखच्चे उड़ गए और शव बोलेरो में बुरी तरह से फंस गए, जिसके बाद शवों को दुर्घटनाग्रस्त गाड़ी से निकालने में खासी मशक्कत करनी पड़ी.

पुलिस के मुताबिक घटना के बाद स्थानीय लोगों ने हादसे की सूचना दी. जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को गाड़ी से बाहर निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और घायलों को इलाज के लिए अस्पताल रवाना कर दिया गया है. मृतकों में पांच पुरुष और 2 महिलाएं शामिल हैं. ये सभी लोग मेले में शामिल होकर वापस घर की तरफ जा रहे थे कि यह हादसा हो गया और सात लोगों की इस दुर्घटना में मौत हो गई.

प्रारंभिक जानकारी के मुताबिक सभी मृत सभी लोग एक ही परिवार के हैं. हादसे की वजह ओवरटेक बताया जा रहा है. घटना स्थल पर मौजूद लोगों ने बताया कि गिट्टी से भरे ट्रक और बोलेरो में ओवरटेक के चलते भिड़ंत हो गई और बोलेरो हवा में उछल कर दूर जा गिरी. लोगों ने बताया कि बोलेरो ने अपने आगे जा रहे ट्रक को ओवरटेक किया, जिससे सामने से आ रहे तेज रफ्तार ट्रक से गाड़ी जा भिड़ी और यह हादसा हो गया. हादसे में पूरी गाड़ी बुरी तरह क्षतिग्रस्त गई. घटना कोंडागांव से 10 किलोमीटर दूर दूधगांव की है.

घटना स्थल पर पहुंचे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनन्त कुमार के अनुसार सभी लोग एक ही परिवार के हैं, जो कि एक मेले से शामिल होकर कोंडागांव की ओर वापस जा रहे थे कि तभी सामने से आ रहे गिट्टी से भरे ट्रक के साथ वाहन टकरा गया, जिससे मौके पर 3 लोगों की मौत हो गई और इलाज के दौरान 4 और लोगों ने दम तोड़ दिया. जिसमें 2 महिलाएं भी शामिल हैं. वहीं 2 कि हालत गम्भीर है जिनका इलाज जारी है.