कोई हिन्दू कोई मुस्लिम कोई ईसाई है, सब ने इंसान न बनने की क सम खाई है। न्यूजीलैंड में मस्जिदों पे आतंकी हमले की खबर जित्ती अहम थी उस अनुपात में अखबार ने उसे कम वैटेज दिया। यहां टैक्स्ट कम और फोटू ज्यादा नुमायां हो रहा है। उधर जैश के  सरगना मसूद अजहर की फ्रांस की जायदाद फ्रांस सरकार जप्त करेगी। उधर बड़े तालाब में अवैध रूप से हो रहे पाथवे के निर्माण कार्य के खिलाफ अखबार की मुहिम रंग लाती लग रही है। डिंडोरी ओले गिरने से कश्मीर जैसे नजारे वाली तस्वीर उम्दा रही। कांग्रेस में 15 नामों को हरी झंडी वाली खबर हरीश दिवेकर की खबर जानदार रही। ये कबाड़खाने की आग कभी भोत बड़े हादसे का सबब बन सकती है। दरअसल निगम ने कबाड़खाने में तीन हजार कबाड़े की दुकाने खुलवा दी हैं।