मनोहर पर्रिकर जैसे ईमानदार, कर्मठ और जीवन के अंतिम दिनों तक काम करने वाले नेता की खबर की फैलान फ्रंट पेज पे कायदे की नहीं हुई। हालांकि अंदर वाले पेज पे उनपे ठीक सामग्री है। क्या भाजपा, क्या कांग्रेस मुल्क के 9 बड़े राज्यों के बड़े नेताओं ने अपने बच्चों के लिए टिकट मांगे हैं। खबर पढ़ी जाएगी। बिहार एनडीए ने सीटें घोषित कर दी हैं। सीटों के बंटवारे वाली खबर लपक आई। मप्र की बीस सीटों पर भी वंश और परिवारवाद हावी है। शानदार इंडेप्थ स्टोरी। लोस चुनाव में सपा, कांग्रेस के लिए नुकसान का सबब बनती है। बिगड़ते सियासी गणित पे अरुण तिवारी ने भेतरीन खबर दी। देवेंद्र शर्मा की खबर। बड़े तालाब में पाथ वे बनाने पर मंत्री ने फटकारा तो अफसरों ने कहा डंपरों के लिए रास्ता बना रहे थे।