भोपाल  : मध्य प्रदेश के भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष राकेश सिंह द्वारा जबलपुर जिला निर्वाचन कार्यालय में रिटर्निंग ऑफिसर के रूम में भीड़ लेकर जाने के मामले में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप लगाया गया है. प्रदेश पार्टी अध्यक्ष राकेश सिंह के अलावा तीन अन्य दिग्गज नेताओं के खिलाफ ओमती थाने में एफआईआर भी दर्ज करवाई गई है, जिनमें सांसद प्रहलाद पटेल, पूर्व मंत्री शरद जैन और वीडी शर्मा के नाम शामिल हैं. इनके अलावा 5 अन्य भाजपा नेताओं पर भी आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज किया गया है.

कांग्रेस की शिकायत पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष को शो काज नोटिस जारी किया गया है. वहीं भीड़ को रोकने में नाकामयाब होने पर ओमती थाना के प्रभारी नीरज वर्मा को भी निलंबित कर दिया गया है. बता दें जबलपुर लोकसभा क्षेत्र से प्रत्याशी राकेश सिंह ने सोमवार को रोड शो किया था, जिसमें उनके साथ कार्यकर्ताओं का बड़ा झुंड शामिल था. इसी झुंड के साथ राकेश सिंह निर्वाचन कार्यालय पहु्ंचे और वहां नामांकन दाखिल किया, जिसके बाद कमलनाथ के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने इस संबंध में राज्य के मुख्य निर्वाचन आयोग से राकेश सिंह और उनके साथ मौजूद लोगों के खिलाफ आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज करने का अनुरोध किया.

Madhya Pradesh BJP Chief and candidate from Jabalpur parliamentary constituency Rakesh Singh issued show-cause notice for allegedly violating Model Code of Conduct. (file pic) pic.twitter.com/S3kt8V4pXi

— ANI (@ANI) April 8, 2019

बता दें नामांकन पत्र दाखिल करने के समय निर्वाचन अधिकारी के पास ज्यादा से ज्यादा पांच लोग जा सकते हैं, लेकिन जब प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नामांकन दाखिल करने पहुंचे थे, तब उनके साथ लोगों का पूरा का पूरा हुजूम साथ था. जिसके चलते नरेंद्र सलूजा ने उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. वहीं इस पूरे मामले का एक वीडियो भी जारी किया गया है, जिसमें सिंह जनता की भीड़ के साथ नजर आ रहे हैं

बता दें पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पंचायत मंत्री गोपाल भार्गव भी इस दौरान रिटर्निंग ऑफिसर के कक्ष में मौजूद थे और इनके साथ दर्जनों भाजपा कार्यकर्ता भी इनके साथ रिटर्निंग अफसर के कक्ष में मौजूद थे, जिसके चलते सलूजा ने सिंह पर आदर्श आचार संहिता के उल्लघंन का आरोप लगाया है. वहीं कांग्रेस की शिकायत को जिला निर्वाचन अधिकारी ने भी गंभीरता से लिया है.