नई दिल्ली: लोकसभा चुनावों में हरियाणा की सभी 10 सीटों पर आम आदमी पार्टी (आप) और जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के बीच चुनावी गठबंधन के बारे में गुरुवार को सैद्धांतिक सहमति कायम हो गई है. दोनों दल शुक्रवार को गठबंधन की औपचारिक घोषणा कर सकते हैं.

‘आप’ सूत्रों के अनुसार, ‘आप’ और जेजेपी हरियाण की सभी दस सीटों पर मिलकर चुनाव लड़ेंगे. उल्लेखनीय है कि पंजाब और हरियाणा में 'आप' एवं कांग्रेस के बीच गठबंधन को लेकर बातचीत विफल रहने के बाद पार्टी नेतृत्व ने जेजेपी के साथ गठबंधन की पहल की है.

सूत्रों ने कहा कि ‘आप’ कुल दस में से चार सीटों फरीदाबाद, गुड़गांव, करनाल और अंबाला में चुनाव लड़ना चाहती है. लेकिन जेजेपी उसे तीन सीटें देने को ही तैयार है.

हरियाणा में ‘आप’ और कांग्रेस के बीच गठबंधन को लेकर बातचीत विफल रही थी जिसके बाद ‘आप’ ने यह कदम उठाया. कांग्रेस और ‘आप’ नेतृत्व ने हालांकि अभी दिल्ली में ‘आप’ के साथ गठबंधन नहीं होने के बारे में स्पष्ट घोषणा नहीं की है.

‘आप’ के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि शुक्रवार को जेजेपी और ‘आप’ के बीच गठबंधन की औपचारिक घोषणा होने की संभावना है. दोनों दलों के बीच हरियाणा में सीटों के तालमेल का भी ऐलान किया जा सकता है. इसमें यह घोषित किये जाने की संभावना है कि किस दल के उम्मीदवार किस सीट से चुनाव लड़ेंगे. हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों पर छठे चरण में 12 मई को मतदान होना है.