नई दिल्ली : एप के जरिये छोटे मनोरंजक वीडियो बनाने की सुविधा देने वाली कंपनी टिकटॉक ने भारत में 60 लाख से ज्यादा वीडियो हटाए हैं. कंपनी का कहना है कि उसने पिछले साल जुलाई से अब तब उसके नियमों का उल्लंघन करने वाले वीडियो हटाये हैं. कंपनी ने एक बयान में कहा, 'यह टिकटॉक के अपने यूजर्स को सुरक्षित और सहज महसूस कराने के प्रयासों का हिस्सा है. साथ ही टिकटॉक समुदाय के भीतर सही स्रोत देकर उन्हें सशक्त करने का भी प्रयास है.'

13 साल से ऊपर वाले ही यूज कर सकेंगे
इसके अलावा टिकटॉक एप का यूज 13 वर्ष की आयु से ऊपर के बच्चे ही कर सकेंगे. इसके लिए कंपनी ने एक अलग पैमाना बनाया है. कंपनी का कहना है कि यह अतिरिक्त सुरक्षा मानक है ताकि कम उम्र वाले यूजर्स इस एप का उपयोग न कर सके. टिकटॉक के निदेशक हेलेना लेरच ने कहा, 'एक वैश्विक समुदाय के तौर पर सुरक्षा टिकटॉक की प्राथमिकताओं में एक है. इन कदमों से हम अपने भारतीय यूजर्स के लिए अपने मंच को सुरक्षित और सकारात्मक बनाए रखने की प्रतिबद्धता को फिर से सुनिश्चित करेंगे.'

10 भाषाओं में मदद के पेज भी शुरू किए
कंपनी की ओर से यह घोषणा टिकटॉक सुरक्षा केंद्र खोले जाने के बाद की गई है. साथ ही कंपनी ने धमकी की गतिविधियों से निपटने के लिए हिंदी, गुजराती, मराठी, बंगाली, पंजाबी, तेलुगू, तमिल, कन्नड़, मलयालम और उड़िया जैसी 10 स्थानीय भाषाओं में मदद के पेज भी शुरू किए हैं.