नई दिल्लीः पुलवामा आतंकवादी हमले के मद्देनजर पाकिस्तान से सर्वाधिक वरीयता प्राप्त राष्ट्र का दर्जा वापस लेने के बाद आज सरकार ने एक और बड़ा कदम उठाते हुए जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा के जरिये पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के साथ व्यापार पर शुक्रवार से रोक लगा दी।

गृह मंत्रालय ने गुरूवार को इस आशय के आदेश जारी करते हुए कहा कि सरकार को पिछले कुछ समय से रिपोटर् मिल रही थी कि पाकिस्तान स्थित कुछ तत्व नियंत्रण रेखा के जरिये होने वाले व्यापार के मार्गों का इस्तेमाल अवैध हथियारों , मादक पदार्थों और जाली मुद्रा देश में भेजने तथा हवाला के पैसे के लिए कर रहे थे।

इस आदेश के तहत नियंत्रण रेखा पर सलामाबाद और चक्कन दा बाग के रास्ते होने वाले व्यापार पर रोक लगा दी गयी है। इस बीच विभिन्न एजेन्सियों के साथ मिलकर सख्त नियम बनाने पर काम किया जा रहा है और इसके बाद ही नियंत्रण रेखा के जरिये होने वाले व्यापार मार्गों के बारे में कोई निर्णय लिया जायेगा।