कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) के बीच आईपीएल सीजन 12 का 35वां मुकाबला कोलकाता के ईडन गार्डन्स स्टेडियम में खेला जा रहा है. टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की टीम ने 20 ओवर में 4 विकेट गंवा कर 213 रन बनाए और कोलकाता को 214 रनों का टारगेट दिया. बेंगलुरु के लिए कप्तान विराट कोहली ने सबसे ज्यादा 100 रनों की पारी खेली. इसके अलावा मोइन अली ने 28 गेंदों पर 66 रन बनाए.

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को पहला झटका सुनील नरेन ने दिया, जब पार्थिव पटेल उनकी गेंद पर नीतीश राणा को कैच थमा बैठे. पार्थिव पटेल 11 रन बनाकर आउट हुए. इसके बाद नंबर 3 पर बल्लेबाजी करने आए अक्षदीप नाथ (13) को आंद्रे रसेल ने रॉबिन उथप्पा के हाथों कैच आउट करा कर बेंगलुरु को दूसरा झटका दे दिया. मोईन अली (66) को कुलदीप यादव ने आउट किया.

इससे पहले कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान दिनेश कार्तिक ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया है और विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया है. कोलकाता ने अपनी टीम में कोई बदलाव नहीं किया है. दूसरी ओर, कप्तान विराट कोहली ने इस मैच में दक्षिण अफ्रीका के हेनरिक क्लासेन और डेल स्टेन को मौका दिया है. स्टेन नौ वर्षों बाद बेंगलुरु के लिए खेलेंगे. एबी डिविलियर्स और उमेश यादव को टीम में जगह नहीं मिली है. एबी डिविलियर्स अस्वस्थ होने के कारण नहीं खेल पाएंगे. कप्तान विराट कोहली ने कहा कि वह उन्हें लेकर जोखिम नहीं लेना चाहते.

आठ में से सात मैच हारकर ‘अगर मगर’ के फेर में फंसी विराट कोहली की रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) को आईपीएल में बने रहने के लिए शुक्रवार को कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) को हर हाल में हराना होगा. केकेआर लगातार तीन मैच हारकर अंक तालिका में दूसरे से छठे स्थान पर खिसक चुकी है, लिहाजा आरसीबी के पास जीतने का सुनहरा मौका है.

केकेआर के ट्रंपकार्ड आंद्रे रसेल को बाएं कंधे में चोट लगी है, जिन्हें अभ्यास के दौरान बाउंसर लग गया था. चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मैच से पहले भी वह पूरे फिट नहीं थे और टूर्नामेंट में पहली बार नाकाम रह. इससे केकेआर की उन पर अत्यधिक निर्भरता भी उजागर हो गई.

रसेल ने आरसीबी के खिलाफ पिछले मैच में 13 गेंदों में नाबाद 48 रन बनाए थे और केकेआर ने 206 रनों के लक्ष्य का पीछा कर जीत दर्ज की थी. यह देखना होगा कि रसेल समय पर फिट हो पाते हैं या नहीं. उनकी गैर मौजूदगी केकेआर को बहुत खलेगी, जिसकी नजरें जीत की राह पर लौटने पर लगी होंगी.

प्लेऑफ में पहुंचने के लिए केकेआर को बाकी छह में से कम से कम चार मैच जीतने होंगे, जिनमें से तीन उसे ईडन गार्डंस पर खेलने हैं. आरसीबी के स्टार बल्लेबाज विराट कोहली और एबी डिविलियर्स ने अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन टीम एक इकाई के रूप में अच्छा नहीं खेल सकी है. तेज गेंदबाजों ने निराश किया है.

युवा नवदीप सैनी ने प्रभावी प्रदर्शन किया, जबकि उमेश यादव फ्लॉप रहे, जिन्हें महज दो विकेट मिल सके. नाथन कूल्टर नाइल की चोट की वजह से दक्षिण अफ्रीका के डेल स्टेन टीम में आए हैं, जिससे तेज आक्रमण मजबूत होने की उम्मीद है.

केकेआर की तेज गेंदबाजी भी औसत ही रही है, जबकि बल्लेबाजों की ऐशगाह ईडन की पिच पर उसके स्पिनर भी खास कमाल नहीं कर सके हैं. सभी की नजरें केकेआर के कप्तान दिनेश कार्तिक पर लगी होंगी, जिन्हें युवा ऋषभ पंत पर तरजीह देकर विश्व कप टीम में शामिल किया गया. कार्तिक इस सत्र में 18.50 की औसत से रन बनाते हुए महज एक अर्धशतक लगा सके हैं.

प्लेइंग इलेवन:
कोलकाता: क्रिस लिन, सुनील नरेन, नीतीश राणा, रॉबिन उथप्पा, दिनेश कार्तिक, आंद्रे रसेल, शुभमन गिल, पीयूष चावला, कुलदीप यादव, प्रसिद्ध कृष्ण, हैरी गर्ने.

बेंगलुरु: पार्थिव पटेल, विराट कोहली, मोइन अली, मार्कस स्टोइनिस, हेनरिक क्लासेन, अक्षदीप नाथ, पवन नेगी, डेल स्टेन, मोहम्मद सिराज, नवदीप सैनी, युजवेंद्र चहल.