पश्चिम बंगाल : पीएम नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल की एक रैली में कहा कि देश को नजरिए वाली सरकार की जरूरत है ना कि विभाजनकारी सरकार की. उन्होंने कहा कि यह आपके वोट की ही ताकत थी कि सेना ने ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की.

तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी के प्रधानमंत्री बनने के सपने का मखौल बनाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगर पद की नीलामी होती तो वह चिटफंड घोटाले से लूट गए पैसे से पद को खरीद लेती.

पीएम ने साधा ममता पर निशाना
प्रधानमंत्री ने औद्योगिक नगर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘वह (बनर्जी) प्रधानमंत्री बनने का सपना देखती हैं और अगर इस पद की नीलामी होती तो वह और कांग्रेस उनके द्वारा लूटे गए पैसों से इसे खरीद लेते.’

बंगाल में चिटफंड घोटाले का हवाला देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जब आप के राज्य की मुख्यमंत्री घोटाले में शामिल लोगों के साथ मेल जोल रखते हुए और उनके साथ खड़ी दिखेंगी तो लोग प्रभावित होंगे ही. उन्होंने कहा, ‘तृणमूल कांग्रेस की सरकार में भ्रष्टाचार और अपराध, दो ना रुकने वाली चीजें हैं.'

'ममता दीदी ने घुसपैठियों को अपने काडर में शामिल किया'
प्रधानमंत्री ने कहा, ‘पहले ममता दीदी ने घुसपैठियों को अपने काडर में शामिल किया और अब वह अपनी पार्टी के लिए प्रचार करने के लिए विदेशी लोगों को ले आईं. ममता दीदी को शर्म आनी चाहिए.’

बनर्जी के ‘विकास के बंगाल मॉडल’ को ‘तोलाबाजी’ (उगाही) मॉडल बताते हुए मोदी ने कहा, ‘ममता दीदी देश भर में विकास के अपने तोलाबाज़ी मॉडल को लागू करना चाहती हैं, लेकिन हम ऐसा नहीं होने देंगे.’ उन्होंने कहा कि बनर्जी उन्हें अपशब्द कह रही हैं और वह चुनाव आयोग से गुस्सा हैं जो लोकसभा चुनाव में उनकी आसन्न हार की निराशा को दिखाता है.