दोहा: एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप के खत्म होने से पहले भारत के नाम एक और गोल्ड मेडल आ गया जब पीयू चित्रा ने बुधवार को 1500 मीटर खिताब बरकरार रखा. इसके साथ ही भारतचैम्पियनशिप के चौथे और अंतिम दिन पांच मेडल जीतकर चौथे स्थान पर रहा. चित्रा ने 2017 में जीते खिताब का बचाव करते हुए भारत को तीसरा गोल्ड मेडल दिलाया जबकि अजय कुमार सरोज ने पुरूष 1500 मीटर और पुरुष तथा महिला चार गुणा 400 मीटर रिले टीमों ने सिल्वर मेडल जीते.

दुती चंद ने महिलाओं की 200 मीटर स्पर्धा में ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया जिससे भारत ने तीन गोल्ड, आठ सिल्वर और सात ब्रॉन्ज मेडल जीते. भारतीय दल कुल 18 मेडल जीतने में सफल रहा. भारत 2017 में भुवनेश्वर में 12 गोल्ड, पांच सिल्वर और 12 ब्रॉन्ज के साथ कुल 29 मेडल जीतकर पहली बार शीर्ष पर रहा था. इस बार बहरीन 11 गोल्ड, सात सिल्वर और चार ब्रॉन्ज के साथ शीर्ष पर रहा. चीन ने 10 गोल्ड, 12 सिल्वर और आठ ब्रॉन्ज जबकि जापान ने पांच गोल्ड, चार सिल्वर और नौ ब्रॉन्ज मेडल हासिल किए.

चित्रा ने बहरीन की धाविका टाइगेस्ट गाशॉ को फिनिशिंग लाइन से कुछ मीटर पहले पीछे छोड़ते हुए खलीफा स्टेडियम में चार मिनट 14.56 सेकेंड से रेस जीत ली. यह भारत का चैम्पियनशिप में तीसरा गोल्ड मेडल था, इससे पहले गोमती एम (महिला 800 मीटर) और तेजिंदर पाल सिंह (पुरूष शाट पुट) ने सोमवार को दूसरे दिन पीला तमगा हासिल किया था. बहरीन की टाइगेस्ट ने 4:14.81 समय से सिल्वर जबकि बहरीन की ही मुटिल विनफ्रेड यावी ने 4:16.18 सेकेंड से ब्रॉन्ज मेडल प्राप्त किया.

Gold Medal Alert ⚠

They said you can't beat Bahrain 🇧🇭

P U Chitra had other PLANS!!

She stormed past not one but ✌️ girls from #Bahrain at #AsianAthleticsChampionship2019

She wins the 1500m 🚺 with a timing 4:14:56#Athletics 🏃 #doha #AsianAthletics@afiindia pic.twitter.com/ASClhK3NSL

— IndInTokyo'2020 (@India_Olym2020) April 24, 2019

तेईस वर्षीय चित्रा ने कहा, ‘‘रेस के अंत में बहरीन की धाविका के बगल में पहुंचकर थोड़ी नर्वस हो गयी थी. उसने मुझे एशियाई खेलों में पछाड़कर तीसरे स्थान पर कर दिया था. अंत में मुझे सच में काफी मशक्कत करनी पड़ी. ’’ चित्रा ने भुवनेश्वर में 2017 चरण में 4:17.92 सेकेंड के समय से गोल्ड मेडल जीता था.

वहीं पुरूष वर्ग में सरोज ने तीन मिनट 43.18 सेकेंड से सिल्वर मेडल हासिल किया. बहरीन के अब्राहम किपचिरचिर रोटिच तीन मिनट 42.85 सेकेंड से पहले स्थान पर रहे. प्राची, पूवम्मा, सिरिताबेन गायकवाड़ और वीके विसमया की भारत की चार गुणा 400 मीटर महिला रिले टीम तीन मिनट 32.21 सेकेंड के साथ बहरीन (तीन मिनट 32.10 सेकेंड) की टीम के पीछे दूसरे स्थान पर रही. कुन्हु मोहम्म्द, केएस जीवन, मोहम्मद अनस और आरोकिया राजीव की पुरुष चार गुणा 400 मीटर रिले टीम भी तीन मिनट 3.28 सेकेंड के साथ गोल्ड मेडल की दौड़ में जापान (तीन मिनट 2ॉ.94 सेकेंड) से पिछड़ गई.