नई दिल्ली: पाकिस्तान दुनिया की उन क्रिकेट टीमों में से एक है, जो खेल से ज्यादा विवादों के लिए चर्चा में रहती है. ऐसा ही आईसीसी विश्व कप शुरू होने से पहले हो रहा है. पाकिस्तान ऐसा पहला देश बन गया है, जिसने विश्व कप की अपनी टीम घोषित करने के एक महीने के भीतर ही इसमें तीन बदलाव कर दिए हैं. इतना ही नहीं, टीम में बदलाव करने के बाद उसे अपने ही खिलाड़ियों का विरोध भी झेलना पड़ रहा है. तेज गेंदबाज जुनैद खान तो लगभग बागी हो गए हैं.

आईसीसी विश्व कप  इसी महीने की 30 तारीख को शुरू हो रहा है. पाकिस्तान ने इसके लिए अपनी टीम अप्रैल में घोषित की थी. उसकी पहली टीम में जुनैद खान, आबिद अली और फहीम अशरफ शामिल थे. पाकिस्तान की टीम विश्व कप की टीम घोषित होने के बाद इंग्लैंड में पांच मैचों की वनडे सीरीज खेली. इस सीरीज में प्रदर्शन के आधार पर विश्व कप की टीम में तीन बदलाव किए गए. जुनैद खान, आबिद अली और फहीम अशरफ को टीम से बाहर कर इनकी जगह मोहम्मद आमिर, वहाब रियाज, और आसिफ अली को शामिल किया गया.

जुनैद खान ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के इस निर्णय का अनोखे अंदाज में विरोध किया. उन्होंने खुद की एक तस्वीर पोस्ट की, जिसमें उन्होंने मुंह पर काली पट्टी बांध रखी है. जुनैद ने इस पोस्ट के साथ लिखा, ‘मैं कुछ भी नहीं कहना चाहता. सच कड़वा होता है.’ पाकिस्तान की टीम विश्व कप में अपने अभियान की शुरुआत 31 मई को करेगी. उसका पहला मुकाबला वेस्टइंडीज से होना है.

29 साल के जुनैद खान ने 76 वनडे, 22 टेस्ट और नौ टी20 मैच खेले हैं. उन्होंने वनडे में 110, टेस्ट में 71 और टी20 में आठ विकेट लिए हैं. जुनैद ने यूं तो इंटरनेशनल करियर की शुरुआत 2011 में की थी, लेकिन उन्हें एक भी बार विश्व कप में खेलने का मौका नहीं मिला है.

विश्व कप के लिए पाकिस्तानी टीम: सरफराज अहमद (कप्तान), फखर जमां, इमाम उल हक, बाबर आजम, शोएब मलिक, मोहम्मद हफीज, आसिफ अली, हैरिस सोहेल, हसन अली, इमाद वसीम, मोहम्मद आमिर, मोहम्मद हसनैन, शादाब खान, शाहीन अफरीदी और वहाब रियाज.