मुंबई: लोकसभा चुनाव 2019 के शुरुआती रुझान एनडीए के पक्ष में आने से गुरुवार को शेयर बाजार उत्साहित दिखाई दिया. गुरुवार सुबह 30 अंकों वाले सेंसेक्स 551.67 अंक की तेजी के साथ 39661.88 के स्तर पर खुला. वहीं 50 अंकों वाला निफ्टी 152.25 अंक की मजबूती लेकर 11890.15 के स्तर पर खुला. सेंसेक्स और निफ्टी में तेजी का सिलसिला जारी है. एग्जिट पोल में एनडीए की सरकार बनने के अनुमान के बाद सोमवार को बाजार में तेजी आई थी. लेकिन अगले ही दिन प्रॉफिट बुकिंग के चक्कर में बाजार 383 अंक फिसल गया. गुरुवार सुबह शुरुआती रुझानों आने के साथ ही SGX निफ्टी में 0.39% की तेजी देखी गई.

17वीं लोकसभा के चुनावी रुझान आने के दौरान शेयर बाजार ने गुरुवार को रिकॉर्ड हाई बनाया. शेयर बाजार खुलने के करीब एक घंटे बाद सुबह 10.30 बजे सेंसेक्स 896 अंक की बढ़त के साथ 40006.20 अंक के स्तर पर पहुंच गया. लगभग इसी समय निफ्टी 264.55 अंक मजबूत होकर 12002.45 के स्तर पर दिखाई दिया. यह सेंसेक्स और निफ्टी का अब तक हाई रहा. हालांकि शेयर बाजार इस स्तर पर ज्यादा देर तक कायम नहीं रहा और कुछ देर में ही सेंसेक्स 40 हजार और निफ्टी 12000 के नीचे आ गया.

शेयर बाजार में तेजी का सिलसिला जारी है. सुबह करीब 9.40 बजे सेंसेक्स 499.39 की तेजी के साथ 39609.60 अंक पर कारोबार कर रहा है. लगभग इसी समय निफ्टी 145.8 अंक चढ़कर 11883.70 अंक पर देखा गया. इससे पहले कारोबारी सत्र के दौरान सेंसेक्स एक समय 39,901.59 के हाई लेवल पर गया. लेकिन कुछ देर बाद ही यह नीचे आ गया.

बाजार के जानकारों का कहना है कि अगर बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए को 300 से ज्यादा सीटें मिलती हैं तो सेंसेक्स 40,000 अंक का बैरियर तोड़ सकता है, जबकि निफ्टी 12,000 के पार चला जाएगा. बता दें कि मतगणना से एक दिन पहले 22 मई को भी सेंसेक्स में 142 अंक की बढ़त दर्ज की गई थी.

सहयोगी चैनल जी बिजनेस के मैनेजिंग एडिट अनिल सिंघवी की सलाह है कि निवेशकों को 5 चरणों में धीरे-धीरे पैसा लगाना चाहिए. इन्वेस्टमेंट की स्ट्रेटजी रोज नहीं बदलती है. इसलिए इवेंट को देखकर अपने निवेश की दिशा तय न करें. नतीजों के वक्त बाजार में पैसा वो ही ट्रेडर या निवेशक लगाए जो बड़ा फायदा या बड़ा नुकसान उठाने की जोखिम उठा सकता है. जो निवेशक मानकर चल रहे हैं कि उन्हें या तो 25-30 फीसदी नीचे जाना होगा या फिर 25-50 फीसदी का रिटर्न मिल सकता है, वो ही बाजार में पैसा लगाएंगे.

अनिल सिंघवी की सलाह है कि बाजार में एकदम ज्यादा मुनाफा कमाने की न सोचें. जितना आप पचा सकते हैं, उतना ही खाएं, लेकिन उसमें भी थोड़ी जगह खाली छोड़ दें. मतलब यह कि ट्रेडिंग के लिहाज से अपनी पोजिशन को हल्का बनाकर चलना है. क्योंकि, इससे आप नतीजों को भी बेहतर तरीके से देख सकेंगे. बाजार पर फोकस रहेगा, जिससे फायदा उठाया जा सकता है.

सीनियर एनालिस्ट अरुण केजरीवाल का कहना है एग्जिट पोल की उम्मीदों के अनुसार यदि एनडीए को पूर्ण बहुमत मिलता है तो मार्केट अच्छा रहेगा. मतगणना के रुझान आने के बाद बाजार थोड़ा ऊपर जाएगा, लेकिन ऐसे में सेंसेक्स के बहुत ऊपर जाने की उम्मीद नहीं है और बाजार ऊपर-नीचे रहेगा. उन्होंने बताया बीजेपी को पूर्ण बहुमत मिलेगा तो बाजार को मजबूत मिलेगी. बीजेपी को पूर्ण बहुमत और एनडीए को 325 या इससे ज्यादा सीटें मिली तो सेंसेक्स आने वाले 10 दिन में 41,000 या इससे ऊपर भी जा सकता है.