भोपाल : होशंगाबाद-नरसिंगपुर लोकसभा क्षेत्र से एक बार फिर भाजपा प्रत्याशी राव उदयप्रताप सिंह को यहां कि जनता ने विजय हासिल कराई, लेकिन इस चुनाव मे राव उदय प्रताप सिंह रिकॉर्ड मतों से जीते. राव उदय प्रताप ने 5 लाख 53 हजार 682 मतों से जीत दर्ज की और इसी के साथ लगातार तीसरी बार होशंगाबाद-नरसिंहपुर लोकसभा क्षेत्र से सांसद चुने गए. कांग्रेस प्रत्याशी शैलेन्द्र दीवान मतगणना के दौरान एक भी राउंड में बढ़त नहीं बना सके और भारी मतों से हारे. वहीं मतगणना के आंकड़ों की बात की जाए तो नोटा 18 हजार 410 मतों के साथ होशंगाबाद-नरसिंहपुर में तीसरे पायदान पर रहा. वहीं बाकि के 8 प्रत्याशी अपनी जमानत भी नहीं बचा पाए.

2019 के लोकसभा चुनाव में होशंगाबाद- नरसिंगपुर लोकसभा में जीत का आंकड़ा साढ़े 5 लाख को पार करने के साथ संसदीय क्षेत्र का भी रिकार्ड बन गया. होशंगाबाद में भाजपा प्रत्याशी उदय प्रताप 5 लाख 53 हजार 682 की लीड के साथ 1951 से शुरू हुए चुनावों के बाद सबसे अधिक मतों के अंतर से जीतने वाले एकलौते सांसद बन गए हैं. वहीं इस चुनाव मे मध्यप्रदेश मे भी सबसे अधिक मतों से जीतने वाले प्रत्याशी का रिकॉर्ड उदय प्रताप को हासिल हुआ है. गुरूवार को मतगणना स्थल पहुंचने के बाद उदय प्रताप सिंह ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि कांग्रेस की हार की वजह उसका नेतृत्व और नीतियां हैं.

उन्होंने कहा कि जनता ने कांग्रेस को बुरी तरह से नकार दिया है और भारतीय जनता पार्टी को एक बार फिर चुना है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इन पांच सालों में देश की जनता में राष्ट्रीयता की भावनाओं को पूर्ण रूप से जागृत किया है और इसी मोदी सुनामी का असर है कि देशभर में भाजपा जीती है. बता दें मध्य प्रदेश में भाजपा ने 29 में से 28 सीटों पर भारी मतों के अंतर से जीत दर्ज कराई है. बाकि एक सीट पर कांग्रेस ने अपनी जीत कायम रखी है. कांग्रेस ने प्रदेश में कांग्रेस छिंदवाड़ा लोकसभा सीट पर ही जीत हासिल कर पाई है. इस सीट से मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ ने जीत दर्ज कराई है.