मुंबई में पायल ताडवी की मौत का मामला अब नए मोड़ पर आ गया है. पायल के पति डॉक्टर सलमान ने मांग करते हुए कहा कि इस मामले में सरकार को दखल देना चाहिए, क्योंकि पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है. जबकि मुमकिन है कि पायल की हत्या 3 महिला डॉक्टरों ने मिलकर की थी.

बता दें कि बीवाईएल नायर अस्पताल में गायनेकोलॉजी सेकंड ईयर की रेजिडेंट डॉक्टर पायल सलमान तड़वी ने अपने सीनियर डॉक्टरों के उत्पीड़न से तंग आकर 22 मई को आत्महत्या कर ली थी. तभी से यह मामला सुर्खियों में बना हुआ है. अब पायल के पति ने तीनों आरोपी डॉक्टरों पर पायल की हत्या का आरोप लगाकर मामले को और पेचीदा बना दिया है.

उधर, इस मामले में बीवाईएल नायर अस्पताल के प्रबंधन ने गायनकोलॉजी डिपार्टमेंट के एचओडी को अगले आदेश तक निलंबित कर दिया गया है. साथ ही हॉस्टल में रहने वाली तीनों आरोपी डॉक्टरों को भी सस्पेंड किया गया है. उन तीनों पर पायल की रैगिंग और उत्पीड़न करने, जाति सूचक शब्द कहने का आरोप है.

मामले की जांच में जुटी पुलिस टीम के मुताबिक आरोपी डॉक्टर अंकिता खंडेलवाल, भक्ति मेहर और हेमा अहूजा अभी तक फरार हैं. पुलिस उनकी तलाश कर रही है.

पुलिस के मुताबिक आत्महत्या से पहले पायल ने अपनी मां से फोन पर कहा था कि वह अपनी तीनों सीनियर डॉक्टरों के उत्पीड़न से परेशान हो गई है, अब वह इसे बर्दाश्त नहीं कर पा रही है. वे तीनों उसे आदिवासी और जातिसूचक शब्दों से बुलाती थी.