नई दिल्‍ली : पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव 2019 के बाद भी राजनीतिक दलों में झड़प की घटनाएं सामने आ रही हैं. बुधवार रात प्रदेश के कूच बिहार में हुए ऐसे ही एक हंगामे के दौरान तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के एक कार्यकर्ता की मौत हो गई. उसके परिवारवालों और स्‍थानीय टीएमसी नेता का आरोप है कि बीजेपी के एक नेता ने अपने समर्थकों के साथ मिलकर उसको पीट-पीटकर मार डाला. मरने वाले टीएमसी कार्यकर्ता का नाम अजीजर अली है. बताया जा रहा है वह घर लौट रहा था. हालांकि अभी इस मामले में पुलिस की ओर से कोई बयान सामने नहीं आया है. टीएमसी कार्यकर्ता की हत्‍या के बाद से इलाके में तनाव है.

TMC worker killed in Cooch Behar, party leader blames BJP

Read @ANI story | https://t.co/ktyrpnyY0I pic.twitter.com/EPhDMOVCwt

— ANI Digital (@ani_digital) June 5, 2019

बता दें कि पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव के वक्‍त से लगातार राजनीतिक दलों के बीच झड़पों की घटनाएं हो रही हैं. बुधवार को ही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ईद-उल-फितर के मौके पर आक्रामक रुख अपनाते हुए अपने विरोधियों को यह कड़ा संदेश दिया कि ‘जो हमसे टकराएगा चूर चूर हो जाएगा.’

ममता बनर्जी ने यहां रेड रोड पर लोगों को बधाई दी. रेड रोड पर नमाज अदा करने के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे. उन्होंने बीजेपी की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘‘जो हमसे टकराएगा, वो चूर चूर हो जाएगा. यह हमारा नारा है.’’

बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस को लोकसभा चुनाव में भाजपा के हाथों बड़ा झटका लगा है. बीजेपी ने लोकसभा चुनाव में राज्य की 42 सीटों में से 18 पर जीत दर्ज की. बनर्जी बीजेपी कार्यकताओं द्वारा लगाए जाने वाले नारे ‘जय श्री राम’ की भी विरोधी रही हैं. उनका आरोप है कि भगवा दल बार बार इस नारे का इस्तेमाल कर धर्म को राजनीति के साथ मिला रहा है.