नई दिल्‍ली : असम के जोरहाट से अरुणाचल प्रदेश के मेंचुका एडवांस्‍ड लैंडिंग ग्राउंड के लिए 3 जून को उड़ान भरने के बाद से लापता हुए वायुसेना के AN-32 विमान को लेकर बड़ी खबर आ रही है. मंगलवार को अरुणाचल प्रदेश के लीपो में इसका मलबा मिलने के बाद से शुरू हुई विमान सवारों की तलाश के सिलसिले में वायुना का कहना है कि इस विमान में सवार कोई भी जिंदा नहीं बचा है.

#Update on #An32 crash: Eight members of the rescue team have reached the crash site today morning. IAF is sad to inform that there are no survivors from the crash of An32.

— Indian Air Force (@IAF_MCC) June 13, 2019

भारतीय वायुसेना को 11 जून को AN-32 विमान का मलबा अरुणाचल प्रदेश के लीपो से उत्‍तर में 16 किमी दूर 12 हजार फीट की ऊंचाई पर दिखा था. इसके बाद से वायुसेना उसपर सवार 8 क्रू मेंबरों और 5 यात्रियों की तलाश कर रही थी. इसके लिए Mi-17 हेलीकॉप्‍टर भी लगाए गए थे. भारतीय वायुसेना के मुताबिक गुरुवार को उसकी आठ सदस्‍यीय की खोजी टीम हादसे वाली जगह पर पहुंची. इस दौरान विमान में सवार सभी लोगों की तलाश की गई. वायुसेना का कहना है कि यह दुखद है कि इस हादसे में कोई भी विमान सवार जीवित नहीं बचा है. वायुसेना ने इसकी जानकारी विमान में सवार सभी 13 लोगों के परिवारों को भी दे दी है.

Following air-warriors lost their life in the tragic #An32 crash - W/C GM Charles, S/L H Vinod, F/L R Thapa, F/L A Tanwar, F/L S Mohanty, F/L MK Garg, WO KK Mishra, Sgt Anoop Kumar, Cpl Sherin, LAC SK Singh, LAC Pankaj, NC(E) Putali & NC(E) Rajesh Kumar.

— Indian Air Force (@IAF_MCC) June 13, 2019

भारतीय वायुसेना की ओर से ट्वीट करके जानकारी दी गई है. इस हादसे में विंग कमांडर जीएम चार्ल्‍स, स्‍क्‍वाड्रन लीडर एच विनोद, फ्लाइट लेफ्टिनेंट ए तंवर, फ्लाइट लेफ्टिनेंट एस मोहंती, फ्लाइट लेफ्टिनेंट एमके गर्ग, वारंट ऑफिसर केके मिश्रा, सार्जेंट अनूप कुमार, कॉरपोरल शेरीन, लीड एयरक्राफ्ट मैन एसके सिंह, लीड एयरक्राफ्ट मैन पंकज, नॉन काम्‍बटेंट कर्मचारी पुताली और नॉन काम्‍बटेंट कर्मचारी राजेश कुमार का निधन हुआ है

IAF Pays tribute to the brave Air-warriors who lost their life during the #An32 crash on 03 Jun 2019 and stands by with the families of the victims. May their soul rest in peace.

— Indian Air Force (@IAF_MCC) June 13, 2019

भारतीय वायुसेना ने इस विमान हादसे में जान गंवाने वाले सभी लोगों को हवाई योद्धा बताया. वायुसेना ने सभी को श्रद्धांजलि अर्पित की और कहा है कि वह पीडि़त परिवारों के साथ हमेशा खड़ी रहेगी.