वॉशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ईरान को हर्मुज की सामरिक जलसंधि के पास तेल टैंकरों पर हमलों के लिए जिम्मेदार ठहरा रहे हैं लेकिन उन्हें उम्मीद हैं कि सैन्य बल प्रयाग की धमकी से इस्लामी गणराज्य बातचीत के लिए तैयार होगा.

गौरतलब है कि ईरान के जल क्षेत्र के बाहर दो तेल टैंकरों में हुये विस्फोट के एक दिन बाद अंतरराष्ट्रीय तेल बाजारों में अफरा-तफरी मच गई. ट्रम्प ने फॉक्स न्यूज चैनल के ‘‘फॉक्स एंड फ्रेंड्स’’ पर शुक्रवार को कहा कि ‘‘ईरान ने यह किया.’’

अमेरिकी सेना ने एक वीडियो जारी किया और दावा किया कि ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड ने एक तेल टैंकर से नहीं फट सकी बारूदी सुरंग हटाया है.