जम्मू और कश्मीर में IED हमले की धमकी के बाद सुरक्षा बढ़ा दी गई है. बताया जा रहा है कि पाकिस्तान ने पुलवामा में हमले की धमकी की जानकारी भारत और अमेरिका से साझा की है.सूत्रों का कहना है कि आतंकी जाकिर मूसा की हत्या का बदला लेना चाहते हैं. इनपुट अलर्ट मिलने के बाद जम्मू और कश्मीर में सुरक्षा बलों को चौकसी बढ़ाने के लिए कहा गया है. जम्मू और कश्मीर पुलिस के जवान विशेष रूप से राजमार्ग पर कड़ी निगरानी रख रहे हैं.

पाकिस्तान ने भारत और अमेरिका को बताया कि दोबारा IED अटैक हो सकता है. सूचना मिलते ही अलर्ट जारी कर दिया गया है. जम्मू-कश्मीर सभी सुरक्षाबल सतर्क हो गए हैं. पाकिस्तान ने बताया कि साउथ कश्मीर में आतंकी हमला हो सकता है. यह वही हमला है जहां 14 फरवरी को कार सुसाइड बम धमाका हुआ था. सूत्रों का कहना है कि यह एक सामान्य इनपुट है. इसके अलावा कोई भी जानकारी नहीं दी गई है.

इसके अलावा पाकिस्तान ने इस प्रकार से सुसाइड हमले से सतर्क रहने के लिए कहा है. शीर्ष सूत्रों का कहना है कि पाकिस्तान द्वारा ऐसा दोष , भारत के विरोध और आतंक के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय दबाव से बचने के लिए किया गया है. यह जानकारी SCO समिट से ठीक पहले आई थी.

पीएम मोदी का आतंक पर हमला
केंद्र में दोबारा सरकार आने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी SCO समिट में शामिल हो गए थे. यहां भी प्रधानमंत्री मोदी ने आतंकवाद का मुद्दा जमकर उठाया. यहां पीएम मोदी ने साफ कहा था कि सभी देशों को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए साथ में आना होगा और इसका सफाया करना होगा. SCO समिट में प्रधानमंत्री मोदी ने श्रीलंका में ईस्टर के मौके पर हुए आतंकी हमले का भी जिक्र किया. इस दौरान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भी मौजूद थे.