ह्यूस्टन: टेक्सास में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को लेकर लोगों में काफी जोश है, यहां 21 जून को हजारों लोगों के योग को बढ़ावा देते नजर आने की उम्मीद है. भारत का महावाणिज्य दूतावास कई समूहों के सहयोग से यहां पांचवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कई कार्यक्रमों का अयोजन कर रहा है.

मुख्य समारोह का आयोजन शुक्रवार शाम छह बजे मिडटाउन पार्क के हरे भरे लॉन में किया जाएगा. यहां विशेषज्ञ प्रमुख आसनों के साथ ही योग, प्राणायाम और ध्यान के बारे में भी लोगों को बताएंगे. साढ़े सात बजे समारोह के बाद लोग यहां भारत के होली की तरह विभिन्न रंगों से लोग खेलेंगे.

ह्यूस्टन में भारत के महावाणिज्य दूत डॉ. अनुपम रे ने ‘पीटीआई-भाषा’ को कहा कि योग वह है जो "हम (भारत) निर्यात करते है...मन और शरीर की तंदुरुस्ती के लिए... हम नफरत का निर्यात नहीं करते हैं ना यह कहते हैं कि मेरा धर्म तुमसे बेहतर है. हम कहते हैं कि योग मन, शरीर और हृदय के लिए अच्छा है.’’

टेक्सास की राजधानी ऑस्टिन में 15 जून से ही यह योग दिवस का जश्न शुरू हो गया था, जहां हर क्षेत्र से अभी तक 1000 से अधिक लोग हिस्सा ले चुके हैं. ह्यूस्टन के बोहरा समुदाय ने भी शनिवार को मस्जिद में योग दिवस मनाया, जहां महिलाएं व पुरुष दोनों शामिल हुए.

मस्जिद में आयोजित समारोह का नेतृत्व करने वाले उप महावाणिज्य दूत सुरेंद्र अधाना ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा,  वे इसको लेकर काफी उत्साहित थे और उन्होंने नियमित रूप से मस्जिद में योग सत्र आयोजित करने का अनुरोध किया है.

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2015 से हर साल 21 जून को मनाया जाता है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सितम्बर 27, 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) में अपने भाषण के दौरान योग दिवस का प्रस्ताव पेश किया था.