नई दिल्लीः कमलनाथ सरकार ने आज 6 महीने पूरे कर लिए हैं. ऐसे में प्रदेश सरकार जनता के सामने अपने सभी कामों का हिसाब देगी. ऐसे में कमलनाथ सरकार के 6 माह पूरे होने पर उच्च शिक्षा एवं खेल युवक कल्याण मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि अपने 6 माह के कार्यकाल में कमलनाथ सरकार ने अभूतपूर्व काम किए हैं. विश्व में ऐसी किसान कर्जमाफी जैसी योजना नहीं है. सीएम कमलनाथ का विचार था कि कैसे एक योजना से दो जगह फायदा पहुंचे. ऐसे में कर्ज माफी योजना से किसान और कॉऑपरेटिव बैंकों को फायदा पहुंचा है. वहीं उन्होंने आगे कहा कि एक आयोग बनना चाहिए जो कच्ची फसलों को खरीद कर उसे अंतरराष्ट्रीय बाजार में बेचे. जहां से बीजेपी की सोच खत्म होती है, वहां से कमलनाथ जी की सोच शुरू होती है.

पहले स्कूल चले अभियान मध्य प्रदेश में चलता था, लेकिन अब पहली बार कॉलेज चलो अभियान हमने शुरू किया है. मध्य प्रदेश की सरकार विपक्ष को साथ लेकर सकारात्मक तरीके से काम करना चाहती है. उच्च शिक्षा विभाग ने बेटियों को कॉलेज तक भेजने के लिए फ्री में एडमिशन करने की घोषणा की है. मध्य प्रदेश ऐसा करने वाला पहला राज्य है. 50 रुपए शुल्क देकर लड़के अपना पंजीयन एमपी आन लाइन में करवा सकते हैं और एडमिशन के लिए उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी का बयान अतिथि विद्वानों को उनका हक देंगे.

वहीं कॉलेज में अध्यापकों की कमी के बारे में उन्होंने कहा कि 'कॉलेजो में खाली पड़े सभी पद जल्द भरे जाएंगे. पीएससी से चयनित असिस्टेंड प्रोफेसर की भर्ती में चयनित उम्मीदवारों को लेकर कोर्ट में सरकार सकारात्मक पक्ष रखेगी. उनके साथ अन्याय नहीं होगा. हमारी सरकार के 6 महीने पूरे हुए. मध्य प्रदेश गठन से लेकर आज तक कोई भी मुख्यमंत्री रहे हो चाहे कांग्रेस के भी क्यो न रहे हो उनके कार्यकाल से ज्यादा उपलब्धि इन 6 महीने में कमलनाथ सरकार ने काम करके दिखाई है. वहीं अधूरे वचनों पर मंत्री जीतू पटवारी बोले कि 'ये जो वचन पत्र आता है वो 5 वर्ष के लिए आता है ये कहीं नहीं लिखा कि सभी एक दिन में करके देंगे.