लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद भारतीय शेयर बाजार को जो ऐतिहासिक तेजी मिली थी उस पर अब ब्रेक लग गया है. दरअसल, बीते कुछ दिनों से सेसेंक्स और निफ्टी में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है. इसका नतीजा यह हुआ है कि सोमवार को सेंसेक्‍स 39 हजार के नीचे आ गया. वहीं निफ्टी भी 11 हजार 700 के नीचे लुढ़क गया. कारोबार के अंत में बाजार में चौतरफा बिकवाली के चलते सेंसेक्स 491 अंक टूटकर 39000 के नीचे 38961 के स्तर पर बंद हुआ. वहीं निफ्टी भी करीब 151 अंक टूटकर 11700 के नीचे 11672 के स्तर पर बंद हुआ.

किन शेयरों का क्‍या हाल
सेंसेक्‍स पर कारोबार के अंत में टाटा स्‍टील के शेयर 5 फीसदी से अधिक टूट गए तो वहीं वेदांता, टाटा मोटर्स, एक्‍सिस बैंक, एयरटेल और रिलायंस के शेयर भी 2 फीसदी से अधिक गिरावट के साथ बंद हुए. इसके अलावा ओएनजीसी, सनफार्मा, मारुति, एलएंडटी और महिंद्रा के शेयर भी 1 फीसदी से अधिक लुढ़क गए.

बता दें कि शुक्रवार को सेंसेक्स 289 अंक की गिरावट के साथ 39,452 अंक पर और निफ्टी 90 अंक की गिरावट के साथ 11,850 अंक के स्तर से गिरकर 11,823 के स्‍तर पर पर बंद हुआ. इस बीच, सोमवार को रुपये की शुरुआत सपाट हुई. रुपया बिना किसी बदलाव के 69.80 के स्तर पर खुला. डॉलर के मुकाबले रुपया शुक्रवार के कारोबारी सत्र में 29 पैसे टूटकर 69.80 के स्तर पर बंद हुआ था.

क्‍या है वजह
दरअसल, ट्रेड वॉर की आशंका बढ़ने की वजह से निवेशकों में एक डर का माहौल है. इस वजह से निवेशक अपने शेयर बेच रहे हैं और भारतीय शेयर बाजार में गिरावट का दौर देखने को मिल रहा है. बता दें कि अमेरिका और चीन के बीच आर्थिक मोर्चे पर तनाव बढ़ता जा रहा है. वहीं भारत की ओर से अमेरिकी उत्पादों पर एडिशनल कस्टम ड्यूटी लगाने का फैसला किया गया है. इस सूची में भारत ने 29 उत्पादों को जोड़ा है. इसमें कई खाद्य सामग्री शामिल है.