हम जिस धरती पर रहते है यहां पर रिश्तों के बिना जीना मुश्किल है, लेकिन थोड़ी सी भी कड़वाहट रिश्तों को तोड़ सकती है या उनमें दूरी ला सकती हैं। रिश्तों का हमारे जीवन में बहुत ही महत्व होता है, अगर उनमें किसी भी तरह की कोई दूरी आ जाए तो उन्हें प्यार व समझदारी से दूर किया जा सकता हैं। रिश्तों में प्यार का बहुत ही महत्व होता है।

इन्हीं रिश्तों की कशमश को समझाते हुए लेखक अरविंद पाराशर ने अपनी रोमांटिक थ्रिलर लव ट्रिलॉजी की अंतिम पुस्तक "ऑल यू नीड इज लव" को लांच किया। इससे पहले इसी पर आधारित दो पुस्तकें मेस्सरड अप: बट ऑल फॉर लव और लॉस्ट इन लव लांच हो चुकी हैं। उन्होंने बताया कि यह पुस्तक रिश्तों में होने वाले उतार चढ़ाव वाले अनुभवों में गहराई से डुबोने वाली एक तेज गति की कहानी हैं। लेखक अरविंद ने कहा कि वह देहरादून के रहने वाले है, वहां पर पहाड़ों, बारिश नेचर के बीच रहते हुए क्रिएटिविटी अपने आप जाती है। घर में भी साहित्य का माहौल अच्छा था, तो धीरे धीरे कहानी लिखने का शौंक बढ़ गया। फिर बुक्स लिखनी शुरु की।
अपने राइटिंग के सफर के बारे में बताते हुए उन्होंने अपने रिश्तों को अच्छा बनाए रखने के टिप्स भी दिए, जिससे की हम रिश्तों में आने वाले उतार चढ़ाव को आसानी से पार कर सकते हैं।

बताते है आपको वह टिप्स
कम्यूनिकेशन
हर रिश्ते में कम्यूनिकेश बहुत ही जरुरी होती है। जब तक एक दूसरे से बात नहीं करेंगे तब तक दिल में क्या चल रहा है या क्या सोच रहे है सामने वाले को किस तरह से पता लगेगा। क्योकि अगर हमारी कोई विश है या सामने वाले से कुछ चाहते है तो उसे समझाना पड़ेगा, बिना समझाएं व समझ नहीं पाएंगे और  हम खुद ही रिश्ते में नाराज होते रहेंगे। अगर आप अपनों के बीच कम्यूनिकेशन रखेंगे तो कभी भी आपके बीच दूरी नहीं आएगी।

विश्वास
विश्वास रिश्तों में नींव की तरह काम करता हैं, जब दो लोग एक दूसरे पर विश्वास नहीं करेंगे तो रिश्ते में दूरी व बातें छुपने लगती है। सामने वाले को लगेगा कि दूसरा व्यक्ति हमारी बात नहीं समझेगा, वह हमारी बात पर विश्वास नहीं करेगा। इसलिए हमें एक दूसरे से बिना कुछ कारण पूछे विश्वास करना चाहिए।

रिश्तों को दें समय
प्यार विश्वास के साथ साथ हर रिश्ता वक्त मांगता हैं। अगर हर रोज समय नहीं दे पा रहे है तो कोशिश करें की वीकेंड पर समय दें, इससे आप खुद के साथ भी समय व्यतीत कर पाएंगे और अपने रिश्ते को भी समझ पाएंगे।

प्लैन करें सरप्राइज
हम एक दूसरे से अकसर स्पेशल ओकेजन पर सरप्राइज गिफ्ट की उम्मीद रखते है, इसलिए कभी भी शादी की सालगिरा, बर्थडे को न भूले। इस दिन अपने परिवार, पार्टनर को अच्छे से समय दें।

दोस्तों, रिश्तेदारों के लिए समय निकालें
रिश्ता दो लोगों का होता है लेकिन उस रिश्ते में समाने वाले के रिश्तों को भी महत्ता देनी चाहिए। समाने वाले के दोस्त, परिवार के सदस्य सबके लिए समय निकाले, उनसे मिले, उनके बारे मे कभी भी बुरा न कहें।

इगो को रखें दूर
इगो ही होती है जो रिश्तों को खत्म कर टूटने पर मजबूर कर देती है, इसलिए कोशिश करें की आपके रिश्ते इगो से दूर रहे। जब भी कभी किसी को मनाने या कुछ करने की बात हो तो एक दूसरे पर बात को न थोपें, बल्कि खुद ही पहल कर लें। फिर अगली बार सामने वाले खुद पहल करेगा।