नाटिघंम: विश्व कप 2019 में बांग्लादेश की टीम ने अब तक उम्मीद से बढ़ कर प्रदर्शन कर सभी दिग्गज टीमों के लिए खतरे की घंटी बजा दी है. इसीलिए पांच बार की चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया की टीम जब गुरुवार को बांग्लादेश के खिलाफ खेलने उतरेगी तो उस पर अपनी प्रतिष्ठा के मुताबिक जीतने का दबाव होगा. ऑस्ट्रेलियाई टीम इस मैच में जीत के सिलसिले को जारी रखते हुए सेमीफाइनल के करीब पहुंचना चाहेगी. वहीं बांग्लादेश भी अपनी जीत के सिलसिले को नहीं तोडना चाहेगी.

एरॉन फिंच की अगुवाई वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम (0.812) नेट रन रेट के आधार पर शीर्ष पर चल रही इंग्लैंड (1.862) से पीछे है, हालांकि दोनों के पांच मैचों में आठ आठ अंक हैं. प्रबल दावेदारों में शुमार ऑस्ट्रेलियाई टीम हमेशा विश्व कप में दबदबा बनाती आई है और इस बार भी कुछ अलग नहीं हो रहा. उसने अभी तक पांच मैचों में से सिर्फ भारत के खिलाफ एकमात्र मुकाबला गंवाया है. ऑस्ट्रेलिया ने अभी तक अफगानिस्तान, वेस्टइंडीज, पाकिस्तान और श्रीलंका को हराया है.

ऑस्ट्रेलिया के लिए अच्छी खबर है कि मार्कस स्टोइनिस चोटिल होने के बाद वापसी कर चुके हैं, हालांकि बांग्लादेश के खिलाफ उनके खेलने की संभावना नहीं है. ऑस्ट्रेलिया के सहायक कोच ब्रैड हैडिन का मानना है कि अभी तक टीम टूर्नामेंट में अपना सर्वश्रेष्ठ नहीं दिखा सकी है जबकि मिचेल स्टार्क और पैट कमिंस विपक्षी टीमों के लिए खतरनाक साबित हो रहे हैं. एरॉन फिंच और डेविड वार्नर जहां टीम को मजबूत शुरूआत दिला रहे हैं तो मध्यक्रम में स्टीव स्मिथ मौजूद हैं.

कप्तान मशरफे मुर्तजा की बांग्लादेश ने अभी तक आईसीसी विश्व कप में अच्छा प्रदर्शन दिखाया है लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अगर उसे विश्व कप मैच में उलटफेर की उम्मीद लगानी है तो उसके खिलाड़ियों को सभी विभागों में अपना सर्वश्रेष्ठ करना होगा.फिलहाल टीम अपने ऑलराउंडर शाकिब अल हसन पर ज्यादा निर्भर है जो टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले अभी सबसे आगे चल रहे हैं.

बांग्लादेश ने अभी तक पांच में से दो मैच गंवाए हैं और दो में उसने जीत हासिल की है जिसमें उसने कहीं बेहतर प्रदर्शन किया. वहीं न्यूजीलैंड के खिलाफ मुकाबले में तो वह काफी करीब से हारी थी. सोमवार को वेस्टइंडीज के खिलाफ उसने आसानी से 322 रन के लक्ष्य को हासिल कर लिया और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जरा सी भी उम्मीद लगाने के लिए उसे इसी प्रदर्शन का दोहराव करना होगा. आल राउंडर शाकिब अल हसन ने इस मैच में 124 रन की नाबाद पारी खेली थी.

शाकिब शानदार फार्म हैं और वह लगाातर दो शतक जड़ चुके हैं और दो साल पहले बांग्लादेश की ऑस्ट्रेलिया पर 10 विकेट की ऐतिहासिक टेस्ट जीत में उन्होंने ही अहम भूमिका अदा की थी. हालांकि प्रारूप अलग है लेकिन ऑस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लेंगर ने स्वीकार किया कि उन्हें शाकिब से निपटना होगा.

गुरूवार को नाटिघंम में हल्की बूंदाबांदी की संभावना है और शुरू में पिच तेज गेंदबाजों के लिए मददगार साबित हो सकती है लेकिन बाद में बल्लेबाजी करने वाली टीम के लिए ऐसी संभावना भी खत्म हो जायेगी.

टीमें इस प्रकार हैं: ऑस्ट्रेलिया: एरॉन फिंच (कप्तान), डेविड वार्नर, उस्मान ख्वाजा, स्टीव स्मिथ, शॉन मार्श, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), मार्कस स्टोइनिस, ग्लेन मैक्सवेल, मिचेल स्टार्क, केन रिचर्डसन, पैट कमिंस, जेसन बेहरनडोर्फ, नाथन कुल्टर नाइल, एडम जाम्पा, नाथन लॉयन.

बांग्लादेश: मशरफी मुर्तजा (कप्तान), अबु जायेद, लिटन दास (विकेटकीपर), महमूदुल्लाह, मेहदी हसन, मोहम्मद मिथुन (विकेटकीपर), मोहम्मद सैफुद्दीन, मुसैद्दक हुसैन, मुश्फिकुर रहीम (विकेटकीपर), मुस्तफिजुर रहमान, रूबेल हुसैन, शब्बीर रहमान, शाकिब अल हसन, सौम्य सरकार और तमीम इकबाल में से.