नई दिल्ली: कप्तान केन विलियम्सन (नाबाद 103) और हरफनमौला खिलाड़ी कोलिन डी ग्रांडहोम (60) के बीच हुई साझेदारी के दम पर बुधवार को बर्मिघम के एजबेस्टन मैदान पर खेले गए आईसीसी वर्ल्ड कप-2019 के मैच में न्यूजीलैंड ने दक्षिण अफ्रीका को चार विकेट से हराकर अंतिम चार के दरवाजे उसके लिए लगभग बंद कर दिए. इसी जीत के साथ न्यूजीलैंड प्वॉइंट टेबल में पहले नंबर पर पहुंच गई है. जबकि दक्षिण अफ्रीका छह मैचों में तीन अंक के साथ 10 टीमों में आठवें स्थान पर है.

दक्षिण अफ्रीका के छह विकेट पर 241 रन के जवाब में न्यूजीलैंड ने तीन गेंद बाकी रहते लक्ष्य हासिल कर लिया. कठिन पिच पर विलियमसन कप्तानी पारी खेलते हुए 138 गेंद पर नौ चौकों और एक छक्के की मदद से 106 रन बनाकर नाबाद रहे.

इस रोमांचक मुकाबले में एक समय तक साउथ अफ्रीका की टीम का पलड़ा भारी था, लेकिन बावजूद इसके टीम के खिलाड़ियों ने मैच जीतने का मौका गंवा दिया.

No matter how gentleman of a player you are, country comes first #williamson #NZvSA pic.twitter.com/HQdadMxlic

— Bharat Army (@bhartarmy) June 19, 2019

दरअसल, हुआ यूं कि जब गेंदबाज इमरान ताहिर ने 39वें ओवर की आखिरी गेंद फेंकी तो गेंद बल्ले का बाहरी किनारा लेते हुए विकेटकीपर क्विंटन डिकॉक के ग्लव्स में जा समाई. यह देख ताहिर ने अंपायर के सामने जोरदार अपील की, मगर विकेटकीपर ने इसमें उनका साथ नहीं दिया. लिहाजा, अंपायर ने बल्लेबाज विलियमसन को आउट करार नहीं दिया.

#NZvSA Williamson Tahir

This is where South Africa lost the World Cup!! No DRS Taken!! pic.twitter.com/b3Wm6ZNtnz

— @How Football Saved Humans (@saved_how) June 19, 2019

इमरान ताहिर ने अपील के बाद रिव्यू भी लेना चाहा, लेकिन विकेटकीपर ने मना कर दिया. जबकि रीप्ले में देखा गया कि विलियमसन आउट थे, क्योंकि उनके बैट का बाहरी किनाराबॅल को लगा था.