महिलाओं का ज्यादातर समय किचन में ही गुजरता है। मगर हाल ही में हुए शोध के अनुसार ज्यादा देर किचन में रहना आपको बीमारियों का शिकार बना सकता है। 200 रसोईयों पर किए इस शोध में खुलासा किया गया है कि जो महिलाएं जरूरत से ज्यादा किचन में रहती हैं उन्हें सबसे अधिक हेल्थ प्रॉब्लम्स होती है। सिर्फ घर ही नहीं बल्कि रेस्त्रां की रसोईयों में रहने वाले लोगों को भी इसका खतरा अधिक है।
 
इसलिए है खतरनाक...
इस शोध में रसोई में काम वाली महिलाओं के साथ रेस्त्रां के कर्मचारियों को भी शामिल किया गया, जिसके नतीजे वाकई चौकाने वाले थे। दरअसल, रसोई में गैस जलने से वहां का तापमान लगभग 30 डिग्री तक पहुंच जाता है, जो सेहत के लिए सही नहीं है। साथ ही रसोई की कुछ चीजों को साफ करने के बाद भी कीटाणु नहीं जाते, जो आपको बीमारियों का कारण बना सकते हैं।

किचन की इन चीजों से अधिक खतरा
रसोई में मौजूद गैस स्टोव, खिड़कियों, फ्राइंग एरिया जैसी चीजों के सैंपल लिए गए। इसके अलावा अध्ययन में शामिल सभी लोगों का यूरिन टेस्ट भी किया गया, जिसके बाद यह नतीजा निकाला की गैस स्टोव से सबसे अधिक खतरा है।

पीएम और पीएच लेवल
शोध के दौरान रसोई का पीएम लेवल 71.9 माइक्रॉन क्यूबिक मीटर था। साथ ही 2.5 माइक्रॉन आकार वाले तत्व भी रसोई में 81.3 के स्तर पर थे और पीएच लेवल 3.1 से 17.71 तक था, जो स्वास्थ्य के लिए बेहद खतरनाक है। इस पीएच में नेप्थालीन, फ्लोरीन, एसनाफिथीन, फेनाथिरीन, पायरीन, क्रिसीन और इंडेनो पायरीन जैसे तत्वों की मौजूदगी पाई गई, जो कई बीमारियों को जन्म देते हैं।

किचन स्‍लैब की स्लैब भी है खतरनाक
बेशक आप किचन स्लैब की रोजाना सफाई करती है लेकिन सिर्फ कपड़ा मारने से वहां कीटाणु नहीं जाते। जी हां, आप सुबह से रात तक स्लैब पर जाने कई ऐसी चीजें रखती हैं, जिनपर कीटाणु लगे होते हैं। यह किटाणु स्लैब पर चिपक जाते हैं और कपड़ा मारने से नहीं जाते। यह कीटाणु आपके शरीर से चिपक जाते हैं और धीरे-धीरे बीमारियों को बढ़ावा देते हैं।
क्या करें?

किचन में लगातार काम करने की बजाए थोड़ी-थोड़ी देर बाद बाहर आ जाए। इससे शरीर का तापमान सही रहेगा और आप कई बीमारियों से बची रहेंगी।
किचन में काम करते समय अपने हाइजीन का ख्याल रखें और हर चीज की सफाई अच्छी तरह करें।
किचन में अधिक खिड़कियां, चिमनी बनवाएं, ताकि वहां का वातावरण सही रहे।