नई दिल्‍ली: बेहिसाब विदेशी मुद्रा दुबई ले जाने की साजिश को केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) ने नाकाम कर दिया है. यह मामला कालीकट इंटरनेशनल एयरपोर्ट का है. जहां से केरल मूल के एक मुसाफिर को सीआईएसएफ ने हिरासत में लिया है. इस मुसाफिर के कब्‍जे से सीआईएसएफ ने 9.40 लाख रुपए मूल्‍य के बराबर की विदेशी मुद्रा बरामद की है. सीआईएसएफ ने आरोपी मुसाफिर को कस्‍टम के हवाले कर दिया है. वहीं कस्‍टम ने आरोपी मुसाफिर के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है.

सीआईएसएफ के अपर महानिरीक्षक हेमेंद्र सिंह के अनुसार, आरोपी मुसाफिर एयर इंडिया एक्‍सप्रेस की फ्लाइट आईएक्‍स-343 से दुबई के लिए रवाना होने वाला था. यह फ्लाइट रात्रि करीब 11 बजे कालीकट इंटरनेशनल एयरपोर्ट से दुबई के लिए रवाना होती है. उन्‍होंने बताया कि रात्रि 10:22 बजे यह मुसाफिर सुरक्षा जांच के लिए प्री-इंबार्केशन सिक्‍योरिटी चेक (पीईएससी) के लिए पहुंचा. सुरक्षा जांच के दौरान सीआईएसएफ के जांच अधिकारी को उसके बैग में संदिग्‍ध आकृति दिखी.

अपर महानिरीक्षक हेमेंद्र सिंह ने बताया कि एक्‍स-रे में संदिग्‍ध आकृति दिखने के बाद सीआईएसएफ के जांच अधिकारी ने फिजिकल चेक के लिए बैग को चिंहित किया. आरोपी मुसाफिर की मौजूदगी में बैग की तलाशी ली गई. जिसमें बैग के भीतर से 9.40 लाख रुपए मूल्‍य की विदेशी मुद्रा बरामद की गईं. जिसमें 75 कुवैती दीनार, 1130 बहराइन दीनार, 1300 आमानी रियाल और 22,500 यूएई के दिरहम शामिल हैं. विदेशी मुद्रा की बरामदगी के बाद सीआईएसएफ ने आरोपी मुसाफिर को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की.

अपर महानिरीक्षक हेमेंद्र सिंह ने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपी मुसाफिर की पहचान सूफियान नीलम परमबथ के रूप में की गई. सूफियान मूल रूप से केरल के कोजहिकोड का रहने वाला है और वह वह एयर इंडिया एक्‍सप्रेस के फ्लाइट से दुबई के लिए रवाना होने वाला था. पूछताछ के दौरान आरोपी मुसाफिर बरामद विदेशी नगदी का न ही हिसाब दे सका और न ही कोई भी वैद्य दस्‍तावेज सीआईएसएफ को नहीं दिखा सका. जिसके चलते, सीआईएसएफ ने आरोपी मुसाफिर को कस्‍टम के हवाले कर दिया.