वाशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को ईरान पर कड़े प्रतिबंध लगाने वाले एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर कर दिए. उन्होंने कहा कि इन प्रतिबंधों से ईरान के सर्वोच्च नेता और अन्य अधिकारी अमेरिकी क्षेत्र में किसी भी बैंकिंग सुविधा के लाभ नहीं उठा पाएंगे. ईरान ने कहा था कि उसने गुरुवार को क्षेत्र में अमेरिका के एक ड्रोन को मार गिराया गया है, जिसके कुछ दिन बाद ट्रंप ने नए प्रतिबंध लगाने का कदम उठाया है.

राष्ट्रपति ट्रंप ने शुक्रवार को जवाबी सैन्य हमले के आदेश को वापस ले लिया था. ट्रंप ने अपने ओवल दफ्तर में पत्रकारों के साथ संक्षिप्त बातचीत में कहा, ‘हम ईरान या किसी भी देश के साथ संघर्ष नहीं चाहते हैं.’ उन्होंने कहा, ‘मैं आपसे यह कह सकता हूं कि हम ईरान को परमाणु हथियार कभी भी हासिल नहीं करने देंगे.’

ट्रंप ने कहा कि उन्होंने जिस कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं, वो ईरान पर कड़े प्रतिबंध लगाएगा और ईरान के सर्वोच्च नेता तथा अन्य अधिकारियों को बैंकिग सुविधा के लाभ लेने से रोकेगा. उन्होंने वित्त मंत्री स्टीवन म्नूचिन की मौजूदगी में आदेश पर हस्ताक्षर किए.

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, ‘मेरे ख्याल से हमने बहुत संयम दिखाया है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम भविष्य में भी सयंम दिखांएगे.’ उन्होंने कहा, ‘हम तेहरान पर दबाव बढ़ाना जारी रखेंगे.’ यह पूछे जाने पर कि अमेरिकी ड्रोन पर ईरानी हमले के जवाब में ये प्रतिबंध लगाए गए हैं तो राष्ट्रपति ने कहा कि आप संभवत: इसे उसमें शामिल कर सकते हैं, लेकिन होने जा रहा था. उन्होंने कहा, ‘मैं न्यूयॉर्क में रहने वाले कई ईरानी लोगों को जानता हूं. वे शानदार लोग हैं