नाखून सिर्फ हाथ-पैर की खूबसूरती ही नहीं बढ़ाते बल्कि सेहत से जुड़े कई राज भी खोलते हैं। इनका बदलता आकार व रंग आपके शरीर का हाल ब्यां करते हैं। ऐसे में अगर आपके नाखूनों का रंग भी बदल रहा है या उसपर डॉट्स दिखाई दे रहे हैं तो उसे नजरअंदाज ना करें। अक्सर लोग इसे कैल्शियम या मिनरल्स की कमी समझकर इग्नोर कर देते हैं लेकिन बता दें कि नाखूनों का बदला हुआ रंग हार्ट डिसीज और स्किन कैंसर जैसी बीमारियों का संकेत हो सकता है। चलिए जानते हैं क्या कहता है आपके नाखूनों का बदला हुआ रंग।
 
स्किन कैंसर का संकेत है काला रंग
अगर नाखून पर काला निशान या फिर काली लाइन दिखे तो फिर यह मेलनॉमा स्किन कैंसर का एक लक्षण हो सकता है। बेहद ही कम लोग जानते हैं कि नाखूनों में भी स्किन कैंसर के लक्षण जन्म ले सकते हैं। ऐसे में आपको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

नेल्स स्किन कैंसर के लक्षण
-नाखूनों का आसानी से टूटना
-नाखूनों के आसपास ब्लीडिंग
-नाखूनों पर हल्के ब्राउन या काले निशान।
-निशानों का तेजी से बढ़ना
- नाखून के पिगमेंटेड हिस्से में पस पड़ना
क्या कहता है नाखूनों का बदलता रंग?

सफेद लाइन और डॉट्स
अगर आपके नाखूनों पर सफेद लाइन या डॉट्स पड़ रहे हैं तो यह खराब स्वास्थ्य, लिवर रोग, आंत की गड़बड़ी, कैल्शियम की कमी और हार्ट डिसीज का संकेत हो सकता है। हालांकि कई बार अधिक मैनिक्योर-पैडिक्योर करवाने की वजह से भी यह समस्या हो सकती है लेकिन इसे हल्के में लेने की गलती ना करें।

पीले नाखून
अगर नाखून का रंग हल्का पीला है तो यह एनीमिया, हृदय रोग, कुपोषण व लिवर संबंधी बीमारियों का संकेत है। इसके अलावा फंगस इंफैक्शन की वजह से भी पूरा नाखून पीली हो जाता है।

लाल नाखून
नाखूनों का रंग जब गहरा लाल हो जाए तो यह हाई ब्लड प्रेशर का संकेत देते हैं।
आधे सफेद और आधे गुलाबी नाखून

नाखूनों का रंग आधा गुलाबी व आधा सफेद दिखाई दे तो ऐसा होना गुर्दे के रोग व सोरायसिस का संकेत देता है।

नीले नाखून
नाखूनों का रंग नीला पड़ना फेफड़ों में संक्रमण, निमोनिया या दिल के रोगों की ओर इशारा करता है। शरीर में ऑक्सीजन का संचार ठीक ढंग से न होने पर भी नाखूनों का रंग नीला पड़ने लगता है।

उभरे हुए नाखून
नाखून अगर ऊपर की तरफ ऊभरे हुए हो तो फेफड़ों और आंतों में सूजन हो सकती है।

चम्मच के आकार में ढले नाखून
यह संकेत, अनुवांशिक रोग की वजह से दिखाई देते हैं। आयरन की कमी या एनीमिया, हृदय की बीमारी, उंगलियों में रक्‍त ठीक प्रकार से ना पहुंचना या फिर हाइपरथाइरायड के कारण भी हो सकता है।

तेज चोंच वाले नाखून
कुछ लोगों के नाखूनों की शेप तोते की चोंच की तरह तेज होती है। उस व्यक्ति को लंग्स डिसॉर्डर या कार्डियक की बीमारी होने की संभावना ज्यादा होती है इसलिए चेकअप जरूर करवाएं।

नाखूनों की इन स्थितियों को बिल्कुल हल्के में ना लें क्योंकि स्किन कैंसर जैसी बीमारियां इससे शरीर के अन्य हिस्सों में भी फैल सकती हैं। अगर आपको कोई भी बदलाव नजर आए तो तुरंत डॉक्टर से चेकअप करवाएं।