गुजरात के RTI कार्यकर्ता अमित जेठवा हत्याकांड मामले में पूर्व बीजेपी सांसद दीनू सोलंकी को दोषी करार दिया गया है. पूर्व बीजेपी सांसद दीनू सोलंकी समेत 7 लोगों को सीबीआई कोर्ट के जरिए दोषी माना गया है. इनकी सजा का ऐलान 11 जुलाई को होगा.

दरअसल, 20 जुलाई 2010 को अमित जेठवा की हत्या कर दी गई थी. अमित गिर वन क्षेत्र में अवैध माइनिंग के खिलाफ आरटीआई लगा रहे थे, उस दौरान उनकी हत्या कर दी गई थी. हत्या के बाद गुजरात पुलिस ने जांच में कहा था कि दीनू सोलंकी की हत्या में कोई भूमिका नहीं है. बाद में आरटीआई कार्यकर्ता अमित के पिता की याचिका पर हाईकोर्ट ने सीबीआई जांच के आदेश दिए थे.

इसके अलावा सोलंकी की जमानत पर भी अमित जेठवा के परिवारवालों ने याचिका दायर की थी. हलांकि, बाद में सुप्रीम कोर्ट ने फरवरी 2014 में सोलंकी को जमानत दे दी थी.