द्वारका: ये सीसीटीवी की फुटेज में बच्ची के साथ दिखाई देने वाला शख्स एक ऐसा दंरिदा है, जिसे 5 साल की बच्ची पर दया नहीं आई। द्वारका सेक्टर-23 इलाके में  इस शख्स पांच साल की बच्ची को फ्रूटी दिलाने के बहाने सुनसान स्थान पर ले गया, जहां उसका रेप करने के बाद उसे बेसुध हालत में मरने के लिए झाडिय़ों में फेंककर फरार हो गया। यह बच्ची खून से लथपथ बेसुध हालत में एक रोड किनारे झाड़ियों में मिली थी।  किसी राहगीर ने उसे देखा और पुलिस को सूचना दी और उसे अस्पताल पहुंचाया गया। जहां मेडिकल जांच में बच्ची के साथ रेप होने की पुष्टि हुई। आरोपी की पहचान दिखाई देने वाले इसी फुटेज से हुई। ये आरोपी बुलंदशहर निवासी मोहम्मद उर्फ नन्हे है, जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है।बच्ची का जिक्र करते हुए उसके पिता ने कहा कि मासूम बिटिया सिर्फ पापा बोल पा रही है और कुछ नहीं।

केजरीवाल ने किया10 लाख रुपये देने का किया एलान
वहीं दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने द्वारका में दुष्कर्म पीड़ित छह साल की बच्ची से मिलने सफदरजंग अस्पताल पहुंचे। इस दौरान उन्होंने बच्ची के परिवार के सदस्यों से बातचीत की। सीएम केजरीवाल ने पीड़ित परिवार को दस लाख रुपये देने की घोषणा की है। उन्होंने बताया कि मैंने डॉक्टर से मुलाकात की, डॉक्टर ने बताया कि पीड़िता की हालत स्थिर है और वह खतरे से बाहर है। हम केस लडऩे के लिए पीड़िता के परिवार को वकील भी मुहैया कराएंगे।

परिवार के लोग दिहाड़ी मजदूर का करते हैं काम
जिला पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पीड़िता पांच वर्षीय बच्ची अपने परिवार के साथ द्वारका सेक्टर 23 इलाके में रहती है। परिवार के लोग दिहाड़ी मजदूर का काम करते हैं। रोज की तरह मंगलवार दोपहर बच्ची घर से खेलने के लिए निकली थी, पर काफी देर तक जब घर नहीं लौटी को उसके माता पिता उसकी तलाश करने आस पास के घरों में पहुंचे, जबा बच्ची कभी कभार चली जाती थी। पर वहां भी वह नहीं मिली। इसके बाद बच्ची के माता पिता के साथ आस पड़ोस के लोग बच्ची की तलाश में निकल गए। देर शाम तलाश करते हुए कॉलोनी से कुछ दूरी पर सुनसान स्थान पर झाडिय़ों में बच्ची के रोने की अवाज सुनी, आवाज सुन जब अंदर पहुंचे तो पाया कि खून से लथपथ बच्ची बेसुध स्थिति में रो रही है। लोगों ने तत्काल इसकी सूचना पुलिस और उसके परिवार के लोगों को दी।

गंभीर स्थिति को देखते हुए बच्ची को कराया गया आईसीयू में भर्ती
सूचना पर पहुंची पुलिस उसे डीडीयू अस्पताल ले गई, जहां डॉक्टरों द्वारा की गई जांच में उसके साथ रेप किए जाने की बात कही गई। बच्ची की गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे आईसीयू में भर्ती कर लिया गया। बच्ची बस यही बोल रही थी कि अंकल मुझे फ्रूटी दिलाने के लिए ले गए थे। पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए पॉक्सो एक्ट में मामला दर्ज कर जांच शुरू की। जांच टीम ने सबसे पहले आसपास के लोगों से पूछताछ के साथ ही बच्ची के घर के आस पास लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज की जांच की। इसमें पुलिस को नारंगी रंग का शर्ट पहना हुआ शख्स दिखा, जोकि बच्ची को अपने साथ ले जा रहा था।

नशे का आदी है आरोपी
फुटेज के माध्यम से जब आरोपी की पहचान शुरू की गई तो आस पास के दुकानदारों ने उसकी पहचान मोहम्मद उर्फ नन्हें के रूप में की। लोगों ने बताया कि वह नशे का आदी है और द्वारका इलाके में ही फुटपाथ में रहता है। कोई काम मिल जाए तो कर लेता है, नहीं तो इलाके के दुकानदारों से मांग कर खा लेता है। इसके बाद पुलिस ने उसे इलाके से ही गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल पुलिस उससे पूछताछ कर आगे की कार्रवाई कर रही है।