महिलाएं अक्सर काम के चक्कर में इतना बिजी हो जाती हैं कि उन्हें अपने खाने-पीने का भी ध्यान नहीं रहता खासकर मैरिड वुमेन। वहीं अगर मैरिड वुमेन कामकाजी हैं तो वह और भी बिजी हो जाती है, वह ना तो समय पर खाती है और ना ही समय पर सोती है। इसी चक्कर में वह अपने स्वास्थ को खराब कर देती है।

भारतीय महिलाएं खून की कमी, बढ़ते वजन, थाइरायड जैसी बीमारियों की तेजी से शिकार हो रही हैं, जिसकी वजह बिगड़ता लाइफस्टाइल तो है ही साथ ही में खुद के लिए समय ना निकलना भी है।

काम से बने स्ट्रेस को हल्की फुलकी एक्सरसाइज, मेडिटेशन के जरिए दूर किया जा सकता है और यह तभी हो सकता है जब आप अपने लिए समय निकाले तो
... चलिए आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताते हैं, जिसकी मदद से आप खुद को हैल्दी रख सकती हैं।

1. सबसे पहले समय पर खाएं। बेवक्त खाया हैल्दी खाना भी शरीर को खराब करेगा। समय पर खाएं और हैल्दी खाएं। हरी सब्जियां, फल और नट्स को अपनी डाइट में जरूर शामिल करें। 1 मुट्ठी भीगे बादाम जरूर खाएं।

2. ज्यादा नहीं तो रोज एक फल जरूर खाएं। फल खाने से शरीर अंदर से मजबूत होता है। सेब, शरीर के लिए  सबसे बेस्ट माना जाता है।

3. खुद को एनर्जी भरपूर रखने के लिए सुबह गुनगुना पानी जरूर पीएं। सुबह सैर पर जाएं। हल्की एक्सरसाइज जरूर करें।

4. पीरियड्स खुल कर नहीं आते तो गाजर का जूस पीएं। वहीं आयुर्वेदिक नुस्खा अपनाना है तो अशोक के पेड़ की 90 ग्राम छाल को 30 मिलीलीटर पानी में 10 मिनट तक उबालें और छान कर दिन में 2 से 3 बार पीएं।

5. पीसीओडी की शिकार हैं तो बाहर का ऑयली-जंक फूड पूरी तरह से अवाइड करें और हरी सब्जियां फाइबर फूड खाएं। प्राणायाम, हलासन आदि को रुटीन में शामिल करें।

6. तनाव महसूस कर रही हैं तो मेडिटेशन का सहारा लें और योगासन करें। इससे आप सिर्फ हैल्दी ही नहीं बल्कि तनाव मुक्त भी रहेगी। सोशल एक्टिविटी में हिस्सा लें और दोस्तों के साथ समय बिताएं।

7. काम की थकान के चलते महिलाओं को रात को नींद नहीं आती। इसके लिए गुनगुने पानी में नमक डालकर बाथ लें या फिर 15 दिन में बॉडी मसाज और सपा लें। सारी थकान दूर हो जाएगी।

8. शरीर में आयरन की कमी ना होने दें, इससे खून तो कम होता है साथ ही स्किन और बाल भी खराब होते हैं। इसलिए आयरन भरपूर फूड्स खाएं। इससे स्किन पर झुर्रियां और झाइयां नहीं पड़ेगी। तुलसी की पत्तियां का सेवन करें। चुकंदर, गिलोय, टमाटर का रस और अंजीर खाएं।

9. फोलिक एसिड की कमी से जोड़ दर्द, हड्डियों की कमजोरी और खून की कमी होने लगती हैं। प्रेग्नेंट महिलाओं को यह तत्व मिलना बहुत जरूरी है। इसकी कमी पूरा करने के लिए दालें, सब्जियां खाएं।    

10. प्राइवेट पार्ट की सफाई के लिए गुनगुने पानी का ही इस्तेमाल करें। वेजाइना को कपड़े की बजाय टिशू पेपर से साफ करें। इससे आप कई बीमारियों से बची रहेगी।

11. ब्रेस्ट की हफ्ते में 1 बार ऑलिव ऑयल से मसाज करने से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। इससे ब्रेस्ट का ढीलापन दूर और स्तनों से जुड़ी बीमारियों का खतरा भी कम रहता है।

12. डिलीवरी के बाद हेयरफॉल रोकने के लिए हेयर कलर या ब्लो-ड्रायर करने से बचें। साथ ही घर पर बने कंडीशनर का इस्तेमाल करें।

13. प्रेग्नेंसी के वक्त योगा, सैर या ब्रीथिंग व पेल्विक एक्सरसाइज करें। मगर किसी भी तरह की एक्सरसाइज को करने से पहले डॉक्टरी सलाह जरूर लें।

14. नई मां बनी महिलाएं जो वजन घटाना चाहती हैं वो ब्रेस्टफीडिंग जरूर करवाएं क्योंकि स्तनपान के दौरान महिला का शरीर करीब 500 कैलोरी खर्च करता है।
 
15. दिनभर काम करने के बाद महिलाओं को थकान हो जाती है जिसके कारण उन्हें बढ़ती उम्र के साथ जोड़ों में दर्द और गठिया रोग हो सकता है। इसलिए हफ्ते में 1 बार बॉडी ऑयल मसाज जरूर करवाएं।

समय-समय पर हैल्थ चेकअप जरूर करवाएं ताकि समय रहते प्रॉब्लम का हल निकाला जाए। स्वस्थ रहने के लिए हैल्दी आहार तो खाना जरूरी है लेकिन साथ में खुश रहना भी। अपने लिए समय जरूर निकालें।

आपको हमारे यह टिप्स कैसे लगे हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं और साथ ही में शेयर कीजिए अपनी हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी प्रॉब्लम्स।