मुंबई : बॉम्बे हाईकोर्ट ने एक बार फिर भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या को बड़ा झटका दे दिया है। सरकारी एजेंसियों द्वारा संपत्ति ज़ब्त किए जाने की प्रक्रिया पर स्थगनादेश के लिए दी गई माल्या की अर्ज़ी को बॉम्बे हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है। इसके साथ ही कोर्ट ने किसी भी तरह की राहत देने से इंकार कर दिया है।

Vijay Mallya seeking stay on procedure to confiscate his property by Govt agencies: Bombay High Court dismisses Vijay Mallya's plea, refusing to give him any relief. (file pic) pic.twitter.com/Zpw2SmHHsS

— ANI (@ANI) July 11, 2019

बता दें कि विजय माल्या ने बॉम्बे हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी। उसने मांग की थी कि कोर्ट उसकी संपत्तियों को जब्त करने की कार्रवाई पर भी रोक लगाए। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अपनी याचिका में माल्या को आर्थिक अपराध में भगोड़ा घोषित करने की मांग की थी। साथ ही कहा था कि उसकी संपत्ति जब्त की जाए और नए एफईओ कानून के प्रावधानों के तहत उसे केंद्र के नियंत्रण में लाया जाए।

गौरतलब है कि 9000 करोड़ रुपये से ज्यादा के घोटाले और मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में विजय माल्या के प्रत्यर्पण के लिए भारतीय एजेंसियां लंबे समय से प्रयास कर रही थीं। बैंकों का लोन लेकर फरार चल रहे शराब कारोबारी को PMLA कोर्ट ने पिछले दिनों ही भगोड़ा घोषित किया था।