एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर खाने का सेवन करना फायदेमंद होता है। इनका सेवन करने से हार्ट अटैक, टाइप 2 डायबिटीज, कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों से बचा जा सकता है। इससे दिल स्वस्थ रहता है जिससे स्ट्रोक जैसी बीमारी के होने का खतरा कम होता है। कोलेस्ट्रॉल और तनाव कम है। तो चलिए आज हम आपकोे एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर उन चीजों के बारे में बताते है। जिसे आपको अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए।

डार्क चॉकलेट (100 ग्राम- 15 mmol)
कई पौष्टिक तत्वों के साथ एंटी-ऑक्सीडेंट से भरी डार्क चॉकलेट को खाना शरीर के लिए फायदेमंद होता है। इसको खाने से दिल स्वस्थ होता है जिससे हार्ट अटैक होने के खतरे को कम होता है। यह तनाव कम करने में भी मदद करती है।

ब्लूबेरी (100 ग्राम- 9.2 mmol)
चाहे ब्लूबेरी में कैलोरी की मात्रा कम होती है लेकिन यह एंटी-ऑक्सीडेंट का मुख्य स्त्रोत है। शोध के अनुसार भी इसमें सब्जियों की तुलना में ज्यादा एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते है। जो बीमारियों से लड़ने की क्षमता बढ़ाता है साथ ही शरीर में होने वाली सूजन की समस्या से राहत दिलाता है।

स्ट्रॉबेरी (100 ग्राम- 5.4 mmol)
कैलोरी, फाइबर, पोटैशियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, ओमेगा-3 फैटी एसिड, विटामिन बी6 आदि तत्व पाए जाते हैं। एंटीऑक्सीडेंट का एक अच्छा स्त्रोत होने से यह खाने में अच्छा स्वाद देने के साथ चेहरे पर ग्लो भी लाता है। यह वजन घटाने, आंखों में सूजन, कमजोर हड्डियां, दांत में दर्द आदि में फायदेमंद होता है। इससे खराब कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होकर ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। इसके सेवन से ह्रदय रोग और कैंसर जैसी गंभीर बीमारी के होने का खतरा कम होता है।

बीन्स (100 ग्राम- 2 mmol)
अच्छी सेहत के लिए बीन्स को डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए। इसमें विटामिन, फाइबर, कैल्शियम एंटी-ऑक्सीडेंट आदि तत्व भारी मात्रा में पाए जाते है। यह ब्लड प्रेशर, डायबिटीज को कंट्रोल करने में मदद करती है। शरीर के विभिन्न हिस्सों से कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ने से रोकती है।

चुकंदर (100 ग्राम- 1.7 mmol)
खाने में थोड़ा मिट्टी जैसा स्वाद देने वाली चुकंदर में फाइबर, आयर, विटामिन, फोलेट और एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होते है। इसका सेवन करने से खून बढ़ने और साफ होने के साथ पाचन क्रिया मजबूत होती है। इसे सब्जी बना कर या सलाद के रूप में कच्चा भी खाया जा सकता है। यह ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखता है। इससे कैंसर होने के खतरा भी कम होता है।