नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर में लगातार हो रही बर्फबारी के चलते अब तक कुल 10 लोगों की मौत हो गई है. जिनमें 5 सेना के जवान भी शामिल हैं. सूत्रों के मुताबिक, पिछले 48 घंटों में हुई भारी बर्फबारी के कारण, उत्तरी कश्मीर में कई जगह हिमस्खलन की घटनाएं सामने आई हैं. इनमें 5 सैनिकों ने अपनी जान गंवाई है जबकि हिमस्खलन में फंसे कई जवानों को बचाया भी गया है. जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा और गांदरबल जिले में हिमस्खलन ने कई घरों को चपेट में ले लिया है. सेना और स्थानीय प्रशासन का बचाव अभियान जारी है. अभी तक पांच लोगों को बचाया जा चुका है. कई अन्य लोगों के दबे होने की आशंका है.

घाटी में चारों तरफ बर्फ की सफेद चादर बिछी हुई है. बर्फबारी के चलते कश्मीर पहुंचे सैलानी तो खुश हैं लेकिन कश्मीरियों की परेशानी बढ़ गई है. एक तरफ कश्मीर को देश से जोड़ने वाले सभी राष्ट्रीय राजमार्ग यातायात के लिए बंद कर दिए गए हैं. वहीं दूसरी तरफ कई इलाकों में तीन दिन से बिजली गुल है. अधिकारियों को राजमार्गो को साफ करने और फिर से खोलने और लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने में मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है, क्योंकि मौसम बेहद खराब है.

भारी बर्फबारी के कारण जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. हालांकि, मौसम विभाग के अधिकारी ने बुधवार से राहत की संभावना व्यक्त की है. घाटी के मैदानी और ऊंची पहाड़ी वाले इलाकों में भारी बर्फबारी हुई है. श्रीनगर में 12 सेंटीमीटर, गुलमर्ग में 27 सेंटीमीटर और पहलगाम में 21.5 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई है.