नई दिल्ली : ऑस्ट्रेलिया दौरे पर पाकिस्तान (Pakistan) की हार का सिलसिला बदस्तूर जारी है. मेजबान टीम ने शुक्रवार को एक बार फिर पाकिस्तान को बुरी तरह हराया. यह पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया  के बीच टी20 सीरीज का तीसरा मैच था. ऑस्ट्रेलिया ने इस मैच में रिकॉर्ड 10 विकेट से जीत दर्ज की. उसने पाकिस्तान को इस अंतर से पहली बार हराया है. एरॉन फिंच की अगुवाई वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पहला मैच सात विकेट से जीता था. सीरीज का पहला मैच बारिश के कारण रद्द हो गया था.

मेजबान ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान  के बीच तीसरा टी20 मैच शुक्रवार को पर्थ में खेला गया. इस मैच में पाकिस्तान ने दो नए खिलाड़ियों को उतारा. उसकी ओर से खुशदिल शाह और मुहम्मद मूसा ने डेब्यू किया. हालांकि, ये खिलाड़ी भी टीम की किस्मत नहीं बदल सके. खुशदिल सिर्फ आठ रन बना सके. तेज गेंदबाज मूसा अपने पहले मैच में एक भी विकेट नहीं ले सके.

ऑस्ट्रेलिया ने इस मैच में टॉस जीता और पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया. ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाजों ने कप्तान एरॉन फिंच (Aaron Finch) के प्लान के मुताबिक गेंदबाजी करते हुए पाकिस्तानी बैटिंग लाइनअप की बखिया उधेड़ दी. ऑस्ट्रेलिया की शानदार गेंदबाजी का पता इसी बात से लगाया जा सकता है कि पाकिस्तान का सिर्फ एक बल्लेबाज 20 का स्कोर पार कर सका. पाकिस्तानी बल्लेबाज मैच में बुरी तरह फ्लॉप रहे और टीम निर्धारित 20 ओवर में 8 विकेट पर 106 रन ही बना सकी.

ऑस्ट्रेलिया को पाकिस्तान द्वारा तय लक्ष्य हासिल करने में कोई दिक्कत नहीं हुई. ओपनर एरॉन फिंच (52*) और डेविड वॉर्नर (48*) ने 109 रन की साझेदारी कर अपनी टीम को रिकॉर्ड जीत दिलाई. पाकिस्तानी गेंदबाजों की दोनों ही छोर से बराबर पिटाई हुए. एक समय वॉर्नर और फिंच ने 34-34 गेंद पर 47-47 रन बनाए थे. उस वक्त ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 103 रन था. थोड़ी देर बाद दोनों बल्लेबाज 35-35 गेंद पर 48-48 रन बनाकर नाबाद थे. इसके बाद फिंच ने चौका मारकर टीम को जीत दिला दी और अपना अर्धशतक भी पूरा कर लिया. ऑस्ट्रेलिया ने यह मैच जब जीता तब उसकी पारी की 49 गेंदें बाकी थीं.

इससे पहले पाकिस्तान की ओर से इफ्तिखार अहमद ने 37 गेंद पर 45 रन बनाए. यह पाकिस्तानी टीम की ओर से सबसे बड़ा स्कोर था. ऑस्ट्रेलिया की ओर से केन रिचर्डसन ने सबसे अधिक तीन विकेट लिए. सीन एबॉट और मिचेल स्टार्क ने दो-दो विकेट झटके. एश्टन एगर को एक विकेट मिला.