एडिलेड : ऑस्ट्रेलिया के ओपनर डेविड वॉर्नर टेस्ट क्रिकेट में ब्रायन लारा का एक पारी में सबसे ज्यादा रनों का रिकॉर्ड तोड़ने के करीब पहुंच गए थे. लेकिन कप्तान टिम पैन द्वारा पारी घोषित किए जाने का कारण वे यह इतिहास रचने से चूक गए. वेस्टइंडीज के ब्रायन लारा इस बात से थोड़े निराश हुए कि वॉर्नर उनके रिकॉर्ड को तोड़ने से वंचित रह गए. इत्तफाक से लारा तब एडिलेड में ही थे, जब वॉर्नर ने यह पारी खेली.

ब्रायन लारा के नाम टेस्ट में सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर का रिकॉर्ड है. उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट की एक पारी में 400 रन बनाए थे. डेविड वॉर्नर पाकिस्तान के खिलाफ साथ जारी दूसरे मैच में 335 रन बनाकर लारा के रिकॉर्ड की ओर बढ़ रहे थे कि पैन ने पारी समाप्ति की घोषणा कर दी.

ब्रायन लारा उस दिन (बीते शनिवार) एक विज्ञापन के संबंध में एडिलेड में थे. वे डेविड वॉर्नर द्वारा अपने रिकॉर्ड तोड़ने का इंतजार कर रहे थे. न्यूज कॉर्प ने लारा के हवाले से लिखा है, ‘वह शानदार पारी थी. मैं समझ सकता हूं, ऑस्ट्रेलिया का मैच जीतना बड़ी बात है और मौसम इसमें बड़ा अहम है, लेकिन ऑस्ट्रेलिया अगर आगे जाती तो मुझे अच्छा लगता. मैं यहां रहते हुए यह देखना पसंद करता. अगर वे कहते, डेविड तुम्हारे पास 12 ओवर हैं. देखते हैं कि क्या आप यह चायकाल तक कर पाते हैं. यह लाजवाब होता.’

ब्रायन लारा ने कहा, ‘उन्होंने छह विकेट लेकर अपने फैसले को सही साबित किया और आज आप देख सकते हैं कि आज विकेट धीमे हो रही है इसलिए पारी की घोषणा सही समय पर आई.’ लारा ने माना कि वे एडिलेड ओवल मैदान के लिए निकलने वाले थे, ताकि वॉर्नर द्वारा ऐतिहासिक पल को देख सकें.

बाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, ‘मैं सर डॉन ब्रेडमैन को पीछे छोड़ने के बाद वॉर्नर को मेरे रिकॉर्ड के पीछा करते देखना पसंद करता. मैं कॉमेंट्री सुन रहा था कि क्या वे मैथ्यू हेडन के 380 के करीब पहुंचे, लेकिन मुझे लगा कि अगर वे 381 तक जाएंगे तो निश्चित तौर पर मेरे रिकॉर्ड के पीछे भी जाएंगे.’