दुनिया में पैसों के लिए क्यों है रोना, मरने के बाद क्या चांदी क्या सोना। इससे बड़ी विडंबना और क्या हो सकती है कि सुप्रीम कोर्ट के जज कह रहे हैं कि देश में कानून बचा ही नहीं है। जस्टिस अरुण मिश्रा बोले के कोर्ट को बंद कर देते हैं और मैं देश छोड़ देता हूं। खबर मय सुप्रीम कोर्ट लाइव के भेतरीन आई। हनी वाली बाई श्वेता स्वप्निल जैन की दोषमुक्ति को एसआईटी हाईकोर्ट में चुनौती देगी। कीर्ति गुप्ता की खबर। सिर्फ रैंप नहीं बल्कि एफओबी का स्ट्रक्चर भी जर्जर है। स्टेशन रैंप हादसे का जानदार फालोअप। बावड़िया कलां आरओबी पे ट्रैफिक की परेशानी बयां करती उम्दा खबर। भोपाल के पुरुष महिलाओं की जबरदस्त प्रताड़ना झेलते हैं। इस मामले में ये शहर मुल्क में तीसरे नंबर पर है। वंदना श्रोती की रोचक खबर।