जमीन की कोख ही जÞख्मी नहीं अंधेरों से, है आसमां के भी सीने पे आफ्Þताब का जख्म.......अयोध्या मामले में मध्यस्थता समिति ने जो सेटलमेंट की रिपोर्ट दायर की है उसमें यह कहा है कि सुन्नी पक्ष विवादित जमीन छोड़ने को तैयार है, पर मस्जिद के लिए जमीन मिलनी चाहिए। अब गेंद चीफ जस्टिस गोगोई के पाले में है जिनको फैसला सुनाना है। मैग्नीफिसेंट एमपी समिट के पहले ही दिन दो हजार करोड़ के निवेश का रास्ता खुलने की खबर इत्मिनान दिलाती है कि आगाज अच्छा है। शहर के 30 हजार प्लॉटों में से ज्यादातर पर पानी भरा होगा तो डेंगू नहीं फैलेगा तो क्या होगा। यह क्लीन भोपाल पर एक बदनुमा दाग है जिसको जल्द ही मिटाना चाहिए। दो निगम पर परिषद अध्यक्ष ने कमिश्नर से कहा है कि कल बुलाए विशेष बैठक  भी यहां मौजूद है पर मियां इतनी जल्दी तो रोटी भी नही पकती है जितनी जल्दी आप मीटिंग बुलाना चाहते हैं।