तमाम खबरों की भोत जानदार जमावट नजर आती है। मसलन रफाल को पूजते राजनाथ वाली खबर हो या संघ प्रमुख मोहन भागवत का मॉब लिंचिंग को लेकर बयान। सूबे में पार्षद ही महापौर और अध्यक्ष को चुनेंगे। अध्यादेश को राज्यपाल की मंजूरी वाली खबर भरपूर आई। अरुणा कुमार के  इस्तीफे के बाद टीएन दुबे के डीन बनने वाली खबर भी यहां नुमायां हो रही है। बाकी इस मामले में कल जीएमसी में इत्ता गदर हुआ के जूडा ने तमाम फैकल्टी को चेंबरों में बंद कर दिया।